close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बाढ़ कोर्ट में पेश हुए बाहुबली विधायक अनंत सिंह, लगे 'छोटे सरकार' जिंदाबाद के नारे

विधायक अनंत सिंह पर हत्या की साजिश रचने और घर से प्रतिबंधित हथियार बरामदगी का मामला दर्ज किया गया है. साथ ही उन पर यूएपीए का मामला दर्ज किया गया है. जो काफी संगीन केस है.

 बाढ़ कोर्ट में पेश हुए बाहुबली विधायक अनंत सिंह, लगे 'छोटे सरकार' जिंदाबाद के नारे
आधे घंटे अधिक का समय विधायक कोर्ट रूम के अंदर रहे. वहां उनके वकील भी मौजूद थे.

बाढ़: बिहार के मोकामा से निर्दलीय विधायक और बाहुबली अनंत सिंह को आज बाढ़ कोर्ट में पेश किया गया. कड़ी सुरक्षा के बीच अनंत सिंह को कैदी वैन से बाढ़ कोर्ट लेकर जाया गया. कोर्ट में पेशी के बाद अनंत सिंह बेउर जेल लेकर जाया गया. 

कोर्ट में पेशी के दौरान ग्रामीण एसपी कांतेश कुमार मिश्र पूरी पुलिस टीम के साथ मौजूद थे. आधे घंटे अधिक का समय विधायक कोर्ट रूम के अंदर रहे. वहां उनके वकील भी मौजूद थे.

बाढ़ कोर्ट ने अंनत सिंह को 30 अगस्त तक न्यायिक हिरासत में भेजा है. 30 को कोर्ट में पुलिस अनंत सिंह को पेश करेगी. फिलहाल 30 अगस्त तक अनंत सिंह को बेउर जेल भेजा गया है. पुलिस रिमांड पर देने के लिए पुलिस आवेदन दे रही थी लेकिन कोर्ट ने इंकार कर दिया. 

 

बाढ़ व्यवहार न्यायालय में करीब डेढ़ घंटे के कानूनी प्रक्रिया के बाद बाहुबली विधायक अनंत सिंह को भारी पुलिस बल के काफिले के साथ पटना के लिए रवाना किया गया इस दौरान ग्रामीण एसपी और एएसपी बाढ़ साथ में थे. वहीं, पटना एयरपोर्ट से लेकर बाढ़ कोर्ट तक अनंत सिंह के समर्थकों की भारी भीड़ मौजूद थी. अनंत सिंह के कैदी वैन से उतरते ही समर्थक अनंत सिंह जिंदाबाद, छोटे सरकार जिंदाबाद के नारे लगाने लगे. 

विधायक अनंत सिंह पर हत्या की साजिश रचने और घर से प्रतिबंधित हथियार बरामदगी का मामला दर्ज किया गया है. साथ ही उन पर यूएपीए का मामला दर्ज किया गया है. जो काफी संगीन केस है.

अनंत सिंह की मुश्किलें तब बढ़ी जब जुलाई में उनका एक ऑडियो वायरल हुआ था. जिसमें भोला सिंह की हत्या की साजिश रची जा रही थी. ऑडियो में अनंत सिंह की आवाज होने का दावा किया गया था. इससे पहले 14 जुलाई को तीन अपराधियों को गिरफ्तार किया गया था. जिसने इस बात का खुलासा किया था कि उन्हें अनंत सिंह के द्वारा भोला सिंह और मुकेश सिंह की हत्या की सुपारी दी गई है.