बिहार : अनंत सिंह के समर्थकों का आरोप, 'घर तुड़वाने के लिए लिपि सिंह ने ली गुर्गों की मदद'

अनंत सिंह और उनके दुश्मनों के बीच सह और मात का खेल जारी है. पुलिस ने अनंत सिंह को एके 47 मामले में दो दिनों की रिमांड पर ले रखा है. उनके समर्थक उनकी बेगुनाही का सबूत पेश कर रहे हैं.

बिहार : अनंत सिंह के समर्थकों का आरोप, 'घर तुड़वाने के लिए लिपि सिंह ने ली गुर्गों की मदद'
अनंत सिंह और उनके दुश्मनों के बीच सह और मात का खेल जारी है.

पटना : एक तरफ बाहुबली विधायक अनंत सिंह पुलिस रिमांड झेल रहे हैं. वहीं, दूसरी तरफ उनके समर्थक उन्हें बेगुनाह साबित करने में जुटे हैं. अनंत सिंह के समर्थकों ने एएसपी लिपि सिंह और भोला सिंह की साठगांठ को लेकर नए सबूत जारी किये हैं. अनंत सिंह के समर्थक बंटू सिंह ने कुछ फोटो जारी करते हुए दावा किया है कि लल्लू मुखिया के घर की कुर्की में मजदूरों के नाम पर भोला सिंह के गुर्गों का इस्तेमाल किया गया था. शुक्रवार को एक आपराधिक घटना में हुई गिरफ्तारी के बाद ये खुलासा हुआ है.

अनंत सिंह और उनके दुश्मनों के बीच सह और मात का खेल जारी है. पुलिस ने अनंत सिंह को एके 47 मामले में दो दिनों की रिमांड पर ले रखा है. उनके समर्थक उनकी बेगुनाही का सबूत पेश कर रहे हैं. अनंत सिंह के समर्थक बंटू सिंह ने शनिवार को मीडिया के सामने कुछ तस्वीर और अखबार में छपी खबर के साथ चौकानेवाले खुलासे किए हैं.

बंटू सिंह ने दावा किया कि बाढ़ पुलिस ने शनिवार को एनटीपीसी थर्मल परियोजना के पहाड़पुर वॉच टावर के पास हाईवा चालक को रंगदारी के लिए अगवा करने और जान से मारने की धमकी के आरोप में भोला सिंह के आवास पर छापेमारी की. जहां पुलिस ने 200 ग्राम गांजे और 4 लाख रुपये के साथ चंदन उर्फ चूहा मालाकार और डब्लू उर्फ डाबो पाठक को गिरफ्तार किया.

इन दोनों की तस्वीर अखबारों में भी छपी है. लेकिन चौकाने वाली बात ये है कि इनमें चंदन उर्फ चूहा मालाकार वही व्यक्ति है जिसे लल्लू मुखिया के घर की कुर्की जब्ती के दौरान घर को तोड़ने के काम में लगाया गया था. अनंत सिंह के समर्थकों ने दोनों घटनाओं की तस्वीर को एक साथ पेश किया.

लाइव टीवी देखें-:

अनंत सिंह के समर्थकों का आरोप है कि लिपि सिंह ने भोला सिंह से लल्लू मुखिया का घर तोड़ने में मदद ली है. बंटू सिंह ने लिपि सिंह और भोला सिंह के नंबर की जांच की भी मांग की है. साथ ही साथ विवेका पहलवाने के भतीजे की ओर से एके 47 लहराने वाले वीडियो के मामले में अब तक गिरफ्तारी नहीं होने पर सवाल भी उठाए हैं. अनंत समर्थकों ने विवेका पहलवान के भतीजे की एक और तस्वीर जारी की है जिसमें वह रायफल लिये उसी घर में मौजूद दिख रहा है, जहां उसने एके-47 लहरायी थी.

बंटू सिंह ने आशंका जतायी है कि इन खुलासो को लेकर उसकी भी हत्या की जा सकती है. डीजीपी से सुरक्षा मांगने के लिए बंटू सिंह ने कई बार संपर्क करने का भी दावा किया है, लेकिन अब तक कोई जवाब नहीं मिलने की बात कही है. अनंत समर्थक का दावा है कि ललन सिंह, नीरज कुमार, भोला सिंह, विवेका पहलवान सभी लोग मिले हुए हैं.