केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे ने खोया आपा, प्रदर्शन कर रहे सोशल वर्कर पर भड़के

वादे के अनुसार मंत्री को बक्सर सदर अस्पताल में डिजिटल एक्सरे और अल्ट्रासाउंड की सुविधा को बहाल करने की बात की गई थी. इसके लिए मशीन भी सदर अस्पताल में लाकर महीनों से रखी गई है लेकिन उसे अभी तक इस्तेमाल में नहीं लाया जा सका है. 

केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे ने खोया आपा, प्रदर्शन कर रहे सोशल वर्कर पर भड़के
अश्विनी कुमार चौबे सामाजिक कार्यकर्ताओं पर कुछ इस कदर भड़के उन्होंने अपना आपा खो दिया.

बक्सर: केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य कल्याण मंत्री शाह बक्सर सांसद अश्विनी कुमार चौबे ने एक बार फिर आपा खो दिया. दरअसल अश्विनी कुमार चौबे ने बिहार के बक्सर में कुछ महीनों पहले सदर अस्पताल में सुविधाओं को बहाल करने का वादा किया था. उनका वादा याद दिलाने के लिए सामाजिक कार्यकर्ता और दिव्यांगजन पहुंचे थे. 

हाथों में बैनर लेकर समाजिक कार्यकर्ता मंत्री जी के उनका वादा याद दिलाने आए थे जो उन्होंने 2 माह पहले उनसे किया था. वादे के अनुसार मंत्री को बक्सर सदर अस्पताल में डिजिटल एक्सरे और अल्ट्रासाउंड की सुविधा को बहाल करने की बात की गई थी. इसके लिए मशीन भी सदर अस्पताल में लाकर महीनों से रखी गई है लेकिन उसे अभी तक इस्तेमाल में नहीं लाया जा सका है. 

दरअसल इन्हीं बातों को याद दिलाने के दौरान मंत्री अश्विनी कुमार चौबे सामाजिक कार्यकर्ताओं पर कुछ इस कदर भड़के उन्होंने अपना आपा खो दिया. सामाजिक कार्यकर्ताओं को देखते ही गुस्से से लाल अश्विनी कुमार चौबे ने उनके हाथों से बैनर छीनकर फाड़ दिया और फिर उन्हें भाग जाने का फरमान सुना दिया. 

हालांकि अपना अपमान होते देख सामाजिक कार्यकर्ता और युवा नेता रामजी सिंह के साथ आए दिव्यांगजनों  ने इसका विरोध किया और इसे सांसद के द्वारा किया गया दुर्व्यवहार बताते हुए खुद को अपमानित करने का मंत्री पर आरोप लगाया.

बक्सर के सर्किट हाउस में हुए इस हाई वोल्टेज ड्रामा के बाद अफरा-तफरी का माहौल कायम हो गया हालांकि काफी मशक्कत के बाद मामले को शांत किया गया. हालांकि इस बीच अपमानित होने के बाद सामाजिक कार्यकर्ताओं ने अश्विनी कुमार चौबे के खिलाफ मोर्चा खोलने का ऐलान कर दिया है.