close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बिहार बारिश: अश्विनी चौबे ने प्रकृति को ठहराया जिम्मेदार, बोले- गंभीर होती है 'हथिया नक्षत्र' की बारिश

बिहार सरकार ने इंडियन एयर फोर्स से राहत सामग्री और दवाइयां गिराने के लिए दो हेलीकॉप्टर की मांग की है. साथ ही बिहार सरकार ने एयर फोर्स से पानी निकालने की मशीन की भी मांग की है.

बिहार बारिश: अश्विनी चौबे ने प्रकृति को ठहराया जिम्मेदार, बोले- गंभीर होती है 'हथिया नक्षत्र' की बारिश
अश्विनी चौबे ने प्रकृति को ठहराया जिम्मेदार.

पटना : केंद्र सरकार के स्वास्थ्य राज्य मंत्री अश्विनी चौबे ने बिहार में हुई बारिश के बाद उत्पन्न समस्या के लिए प्रकृति को जिम्मेदार ठहराया है. उन्होंने कहा कि 'हथिया नक्षत्र' की बारिश बहुत गंभीर हो जाती है. साथ ही उन्होंने कहा कि बारिश ने प्राकृतिक आपदा का रूप धारण कर लिया है. उन्होंने कहा कि सरकार किसी भई परिस्थिति से निपटने के लिए तैयार है.

आपको बता दें कि बिहार सरकार ने इंडियन एयर फोर्स से राहत सामग्री और दवाइयां गिराने के लिए दो हेलीकॉप्टर की मांग की है. साथ ही बिहार सरकार ने एयर फोर्स से पानी निकालने की मशीन की भी मांग की है.

गंगा, कोसी, गंडक, बागमती, महानंदा जैसी बड़ी नदियों में जलस्तर बढ़ रहा है, जिससे कई जगहों पर बांध टूटने का खतरा पैदा हो गया है. जल संसाधन विभाग ने संबंधित अधिकारियों को अलर्ट कर दिया है और जिला अधिकारियों से किसी भी स्थिति से निपटने के लिए तैयार रहने के लिए कहा गया है. भारी बारिश से बाढ़ की स्थिति को देखते हुए फरक्का बैराज के सभी गेट खोल दिए गए हैं. 

पटना साहिब के सांसद रविशंकर प्रसाद ने कहा है कि कोल इंडिया से और भी बड़े पंप को पानी निकालने के लिए मंगवाया गया है. साथ ही रविशंकर प्रसाद ने कहा है कि पटना में बाढ़ को देखते हुए एनडीआरएफ से बात की गई है और उनका कहना है कि उनके पास नाव उपलब्ध हैं. रविशंकर प्रसाद ने कहा है कि एयरफोर्स का एक हेलीकॉप्टर राहत कार्य के लिए पहुंच चुका है और एक जल्द ही पहुंच जाएगा.