close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बिहार में पूर्व IPS पर जानलेवा हमला, तीन गिरफ्तार

पुलिस ने कार्रवाई करते हुए तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है, जबकि अन्य की तलाश जारी है.

बिहार में पूर्व IPS पर जानलेवा हमला, तीन गिरफ्तार
पूर्व आईपीएस अजय वर्मा पर हमला उस समय हुआ, जब वो अपनी पत्नी और बेटे के साथ न्यू बाइपास के पास से गुजर रहे थे.

पटना: बिहार में अपराधियों का खौफ सिर चढ़ कर बोल रहा है. एक वारदात की पुलिस जांच कर रही होती है, दूसरी घटना हो जाती है. ताजा घटना पूर्व आईपीएस अजय वर्मा के साथ हुई, जिसमें उन पर बाइक सवारों ने जानलेवा हमला किया और उनकी गाड़ी को बुरी तरह से क्षतिग्रस्त कर दिया.

अजय वर्मा पर हमला उस समय हुआ, जब वो अपनी पत्नी शंपा वर्मा और बेटे के साथ न्यू बाइपास के पास से गुजर रहे थे. पुलिस ने कार्रवाई करते हुए तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है, जबकि अन्य की तलाश जारी है. डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय पूर्व आईपीएस के आवास पर पहुंचे और उन्होंने उनका हाल जाना. डीजीपी ने आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई का भी भरोसा दिया. 

पूर्व आईपीएस अधिकारी अजय वर्मा पटना के नागेश्वर कॉलोनी में रहते हैं. कुछ महीने पहले ही डीआईजी होकर रिटायर हुये हैं. वो परिवार के साथ मकान में लगाने के लिए ग्रेनाइट देखने के लिए न्यू बाइपास इलाके में गये थे. वहां से वापस आ रहे थे, तभी खेमनीचक के पास शिवम स्कूल में छुट्टी हुई थी, जिसकी वजह से बच्चे सड़क से गुजर रहे थे, तो अजय वर्मा ने कार को रोक दिया. इसी दौरान उनकी कार से पीछे से आ रही बाइक टकरा गया, जिससे कार की पिछली बत्ती का शीशा टूट गया. 

गाड़ी का शीशा टूटने पर अजय वर्मा ने बाइक सवार को रोका और उससे कहने लगे कि हम अभी पुलिस को बुलाते हैं. इस पर बाइक सवार ने खुद के स्थानीय होने का हवाला दिया और अपने साथियों को बुला लिया. देखते ही देखते बात बढ़ गई और बाइक सवार ने अपने साथियों के साथ मिल कर अजय वर्मा और उनके बेटे पर हमला कर दिया.

लाठी- डंडों से लैस शरारती तत्वों ने दोनों की जमकर पिटाई कर दी. पूरे घटनाक्रम का पूर्व आईपीएस के पत्नी शंपा वर्मा वीडियो रिकार्डिंग कर रही थीं. ये देख कर हमलावर और नाराज हो गये. उन्होंने कार का पिछला शीशा तोड़कर शंपा वर्मा पर हमले की कोशिश की, लेकिन वो बाल-बाल बच गईं. इस दौरान हमलावर गाड़ी को पास के गड्ढे में पलटना चाहते थे, लेकिन कामयाब नहीं हुए. 

लगभग एक घंटे तक पूरा घटनाक्रम चलता रहा, इस दौरान पूर्व आईपीएस और उनकी पत्नी ने पुलिस को सूचना देने की कई बार कोशिश की, लेकिन कामयाब नहीं हो सके. 100 नंबर पर रिंग होती रही, लेकिन फोन नहीं उठा, तो एक परिचित को फोन कर पूरी घटना की जानकारी दी, जिसके बाद स्थानीय पुलिस को सूचना दी गई, जब पुलिस मौके पर पहुंची, तो हमलावर फरार हो गए थे, तब जाकर किसी तरह से पूर्व आईपीएस की जान बची. अजय वर्मा और उनके बेटे का निजी अस्पताल में इलाज कराया गया. 

पूर्व आईपीएस की पत्नी शंपा वर्मा नेपुलिस पर लापरवाही का आरोप लगाया और कहा कि जब घटना हो रही थी, तो एक दारोगा ने फोन किया और पूरे मामले की जानकारी ली, जिसके बाद कहने लगा कि वो इलाका मेरे थाना क्षेत्र में नहीं पड़ता है. उन्होंने कहा कि अगर कहीं हमला हो रहा है, तो पुलिस का काम पहले रक्षा करना होता है, लेकिन यहां पर थानेदार अपना क्षेत्र देख रहे थे. इससे पुलिस की मुस्तैदी का पता चलता है. बाद में एसएसपी गरिमा मलिक के हस्तक्षेप के बाद पुलिस सक्रिय हुई और तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया, जबकि अन्य की तलाश जारी थी. 

अजय वर्मा से मिले डीजीपी, बोले- हमलावर नहीं बचेंगे
बुधवार की दोपहर डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय पूर्व आईपीएस अजय वर्मा और उनके परिजनों से मिलने के लिए उनके आवास पर गये. इस दौरान एसएसपी गरिमा मल्लिक भी उनके साथ थीं.

डीजीपी ने अजय वर्मा से हाल जाना और पुलिस की ओर से की जा रही कार्रवाई की जानकारी दी और कहा कि जो हमलावर हैं, उन्हें चिह्नित किया जा रहा है. अब तक तीन की गिरफ्तारी हो चुकी है. बाकी अन्य लोगों को भी गिरफ्तार कर लिया जाएगा. इस मामले में कोई बचेगा नहीं. डीजीपी से जब पत्रकारों ने बात करने की कोशिश की, तो उन्होंने कहा कि निजी संबंधों को लेकर हम पूर्व आईपीएस से मिलने आये थे. 

अच्छे अधिकारियों को दे रहे वीआरएस
पूर्व आईपीएस अधिकारी अजय वर्मा की पत्नी शंपा वर्मा हमले को लेकर गुस्से में हैं. उन्होंने पुलिस पर लापरवाही का आरोप लगाया. साथ ही बिहार सरकार को भी कठघरे में खड़ा किया और कहा कि ईमानदार अधिकारियों के नौकरी से वीआरएस दिया जा रहा है. मेरे पति अजय वर्मा और अमिताभ दास जैसे अधिकारियों को समय से पहले रिटायर कर दिया गया. उन्होंने कहा कि बिहार में पुलिल का इलबाल खत्म होता जा रहा है. अपराधी लगातार पुलिस पर हावी हो रहे हैं.