close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

लखीसराय: निलंबन से नाराज बीडीओ ने दी धर्म परिवर्तन की चेतावनी, RJD-JDU ने कहा कुछ ऐसा

रामगढ़ चौक के निलंबित बीडीओ मनोज अग्रवाल ने धमकी दी है कि अगर सात फरवरी तक उनके निलंबन को वापस नहीं लिया जाता है तो वह धर्म परिवर्तन कर लेंगे.

लखीसराय: निलंबन से नाराज बीडीओ ने दी धर्म परिवर्तन की चेतावनी, RJD-JDU ने कहा कुछ ऐसा
रामगढ़ चौक के निलंबित बीडीओ मनोज अग्रवाल ने धमकी दी है.

राजकिशोर मधुकर​/लखीसराय: बिहार के लखीसराय जिले के रामगढ़ चौक के बीडीओ ने निलंबन से नाराज होकर विभाग को धर्म परिवर्तन की चेतावनी दी है. रामगढ़ चौक के निलंबित बीडीओ मनोज अग्रवाल ने धमकी दी है कि अगर सात फरवरी तक उनके निलंबन को वापस नहीं लिया जाता है तो वह धर्म परिवर्तन कर लेंगे.

उन्हें भ्रष्टाचार के आरोप में निलंबित किया गया है. बीडीओ का आरोप है कि उनके खिलाफ जातिवाद और राजनीतिक दुर्व्यभावना के तहत कार्रवाई की गई है. बीडीओ ने इंसाफ के लिए जिला स्तर से लेकर राज्य स्तर तक के मुख्यालयों में मंत्रियों और मानवाधिकार आयोग से गुहार लगाई है. 

वहीं, बीडीओ का कहना है कि सौ प्रतिशत सुनियोजित और हास्यास्पद आरोप लगाया है. आरोप की विकास आयुक्त ने जिस तरह जांच की और कहा कि यह सच है यह काफी हैरान करने वाला है.

वहीं, मनोज अग्रवाल ने ये भी कहा है कि पिछले तीन महीने से एक पंचायत सचिव जो कोई काम नहीं करता था और ना ही मीटिंग में आता था. जिले के बैठक में वो नशे में था. मैंने उसे हटा दिया और इसे जेडीयू प्रखंड और जिलाध्यक्ष ने मुद्दा बनाया और मंत्री तक गलत तरीके से अपनी बात पहुंचाई. जानकारी मिलने पर मैं भी मंत्री से मिला और अपनी बात रखी थी. 

साथ ही उन्होंने कहा कि मुझे साजिश के तहत भ्रष्टाचार के आरोप निलंबित किया गया है. पंचायत सचिव के कहने पर अगर बीडीओ को निलंबित किया जा रहा है तो ये हैरान करने वाली बात है. 

वहीं बीडीओ के धर्म परिवर्तन की चेतावनी पर आरजेडी नेता विजय प्रकाश ने कहा है कि बीडीओ जो चैलेंज कर रहे हैं वो लगातार चलता रहा है. मंत्री और जेडीयू नेताओं की दलाली जो अधिकारी नहीं करते हैं उनपर इस तरह के आरोप और कार्रवाई होते रहते हैं. धन उगाही नहीं करने वाले अधिकारी फसंते हैं. 

वहीं, जेडीयू प्रवक्ता नीरज कुमार ने कहा है कि विभागीय अधिकारी,न्यायपालिका पर से विश्वास उठ गया तो क्या कहना? देश स्वतंत्र है,बाबा भीम राव अम्बेदकर ने संविधान ऐसा बनाया हैं कि जिस धर्म मे विश्वास है वो धर्म अपना सकते हैं. बीडीओ को लगता है कि वो निर्दोष हैं तो वो न्यायालय जाएं. अब देखने वाली बात ये होगी कि आगे इस मामले में बीडीओ क्या कदम उठाते हैं और क्या कार्रवाई की जाती है.