Bettiah को मिली केंद्र से सौगात, लंबे इंतजार के बाद केंद्रीय विद्यालय की Building बनकर तैयार

साथ ही कहा कि यह वह देश है जिन्होंने पूरी दुनिया की लीडरशिप किया है. एक दिन में 15 करोड़ लीटर जल संरक्षण और सबसे अधिक मात्रा में वृक्षारोपण अभियान कर केंद्रीय विद्यालय के बच्चों ने पूरे देश में एक रिकॉर्ड बनाया है.

Bettiah को मिली केंद्र से सौगात, लंबे इंतजार के बाद केंद्रीय विद्यालय की Building बनकर तैयार
Bettiah को मिली केंद्र से सौगात, लंबे इंतजार के बाद केंद्रीय विद्यालय की Building बनकर तैयार.

धनंजय/बेतिया: बिहार के बेतिया को आज एक सौगात मिली है. केंद्रीय विद्यालय को लंबे इंतजार के बाद अपना भवन मिला है. केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल ने दिल्ली से वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से केंद्रीय विद्यालय का उद्घाटन किया. करीब 12 करोड़ की लागत से 10 एकड़ जमीन में फैले केंद्रीय विद्यालय का भवन जिले के चनपटिया प्रखंड के कुमारबाग में बनाया गया है. 

इस अवसर पर केंद्रीय विद्यालय कुमारबाग़ में मंच पर उपस्थित सभी अतिथियों ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्वलित और शिलापट्ट का लोकार्पण किया. जिसका उदघाटन केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने नई दिल्ली से वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से किया.

इस दौरान केंद्रीय मंत्री ने कहा कि केंद्रीय विद्यालय देश की शान है और इनमें पढ़ने वाले बच्चे पहली पंक्ति में खड़े होकर देश की शान बढ़ाते हैं. केंद्रीय विद्यालयों में छात्रों के दाखिले के लिए काफी दबाव रहता है. इन विद्यालयों ने बहुत से बच्चों को तराशा है और भविष्य में यहां और अधिक बच्चों को शिक्षा लेने का मौका मिले इसलिए हम लगातार इन विद्यालयों की संख्या बढ़ा रहे हैं. 

साथ ही कहा कि यह वह देश है जिन्होंने पूरी दुनिया की लीडरशिप किया है. एक दिन में 15 करोड़ लीटर जल संरक्षण और सबसे अधिक मात्रा में वृक्षारोपण अभियान कर केंद्रीय विद्यालय के बच्चों ने पूरे देश में एक रिकॉर्ड बनाया है.

वही, बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष सह पश्चिम चंपारण के सांसद डॉ संजय जायसवाल ने कहा कि केन्द्रीय विद्यालय प्रणाली आज देश में उत्कृष्टता की मिसाल बन गये हैं और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर भी अपनी पहचान बना रहे हैं. वहीं राज्यसभा सांसद सतीश चंद्र दुबे ने कहा कि इन स्‍कूलों की गुणवत्‍ता इस बात में परिलक्षित होती है कि इससे पढ़कर निकले कई छात्र आज अपनी प्रतिभा के दम पर भारतीय प्रशासनिक सेवा तथा मेडिकल और इंजीनियरिंग आदि के प्रतिष्ठित क्षेत्र में सफलतापूर्वक काम कर रहे हैं.

बता दें कि पूरे देश मे कुल 1245 केंद्रीय विद्यालय हैं. कोविड-19 के चुनौतीपूर्ण दौर में केंद्रीय विद्यालय संगठन (केवीएस) ने स्कूली शिक्षा को सबसे पहले डिजिटल माध्यम से लगातार जारी रखकर बेहद सराहनीय कार्य किया है. ऑनलाइन के माध्यम से केंद्रीय विद्यालय के छात्रा गुनगुन और अनुपम अग्रवाल ने भी अपनी विचार अतिथियों के समक्ष साझा किया. अंत मे केंद्रीय विद्यालय कुमारबाग़ के छात्राओं ने सांस्कृतिक कार्यक्रम कर मौजूद सभी अतिथियों का मन मोह लिया.

नवनिर्मित केंद्रीय विद्यालय भवन में पहली से लेकर 12वीं कक्षा तक संचालन के लिए दो-दो वर्ग कक्ष का निर्माण किया गया है. हालांकि वर्तमान में अभी दसवीं तक ही 1-1 सेक्शन की पढ़ाई होती है. लेकिन भविष्य में 12वीं तक दो-दो सेक्शन की पढ़ाई होगी. इसके अतिरिक्त शिक्षक क्वार्टर, खेल मैदान, लाइब्रेरी, कंप्यूटर कक्ष सहित अन्य सभी सुविधाएं नए भवन में उपलब्ध है. प्राचार्य प्रेम नारायण ने बताया कि केंद्रीय विद्यालय संगठन से अनुमति मिलने के बाद सेक्शन का विस्तार किया जाएगा.

इस अवसर पर बिहार बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष डॉ संजय जायसवाल, राज्यसभा सांसद सतीश चंद्र दुबे डीएम कुंदन कुमार सहित कई गणमान्य मौजूद रहे.

उद्घाटन कार्यक्रम में पश्चिम चम्पारण के सांसद सह बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष डॉ संजय जायसवाल, राज्यसभा सांसद सतीश दूबे, वाल्मीकिनगर के सांसद सुनील कुमार, चनपटिया विधायक उमाकांत सिंह, बीजेपी जिलाध्यक्ष दीपेंद्र सर्राफ, डीएम कुंदन कुमार, एसडीएम विद्यानंद पासवान, प्राचार्य प्रेम नारायण, सांसद प्रतिनिधि मनोज सिंह, प्रखण्ड प्रमुख बीरेंद्र मांझी सहित विद्यालय परिवार के सभी शिक्षक व शिक्षिकाएं उपस्थित रहें.