Munger Corona Update: 307 नए केस आए सामने, एक्टिव मरीजों की संख्या पहुंची 2,500 के पार

Munger Samachar: जिले में रविवार को भी कोरोना के 307 पॉजिटिव मरीज पाए गए हैं. इसके कारण जिले में अब कुल संक्रमित मरीजों का आंकड़ा 11 हजार के पार पहुंच चुका है.

Munger Corona Update: 307 नए केस आए सामने, एक्टिव मरीजों की संख्या पहुंची 2,500 के पार
307 नए केस आए सामने, एक्टिव मरीज की संख्या पहुंची 2,500 के पार. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

Munger: सूबे में बढ़ रहे संक्रमण के साथ जिले में भी संक्रमण का स्तर काफी तेजी से बढ़ता जा रहा है. इसमें प्रतिदिन 200 से अधिक मरीज पॉजिटिव पाए जा रहे हैं. वहीं, संक्रमण के बढ़ रहे स्तर पर काबू पाने के लिए सरकार द्वारा 5 मई से लॉकडाउन लगा दिया गया है. लेकिन इस लॉकडाउन के दौरान मिली चार घंटे की छूट जिले में संक्रमण का स्तर और तेजी से बढ़ा सकती है. 

दरअसल, लॉकडाउन के बीच मिली चार घंटे की छूट में जिस प्रकार से शहर के बाजार में लोगों की भीड़ लग रही है और जिस प्रकार से बाजारों में खुलेआम सोशल डिस्टेसिंग नियमों की धज्जियां उड़ रही हैं. उससे जिले में संक्रमण का स्तर और अधिक बढ़ने की संभावना से इंनकार नहीं किया जा सकता. 

वहीं, इस बीच जिस प्रकार से छूट के दौरान गाइडलाइंस का पालन कराने के प्रति जिला प्रशासन और पुलिस उदासीनता बरत रही है. उससे संक्रमण बढ़ने का खतरा और अधिक बढ़ गया है. इसी क्रम में जिले में रविवार को भी कोरोना के 307 पॉजिटिव मरीज पाए गए हैं. इसके कारण जिले में अब कुल संक्रमित मरीजों का आंकड़ा 11 हजार के पार पहुंच चुका है. इधर, जिले में एक्टिव मरीजों की संख्या भी अब बढ़कर 2,600 हो चुकी है. 

ये भी पढ़ें- Remdesivir Injection की कालाबाजारी रोकने के लिए नीतीश सरकार ने कसी कमर, तय किये दाम

रविवार को मिले 307 नए मरीज 
जिले में रविवार को भी कोरोना का बड़ा मामला सामने आया है. रविवार को जिले में कोरोना के 307 नए पॉजिटिव मरीज पाए गए. जिसमें 207 पुरूष व 100 महिलाएं शामिल हैं. इसके कारण जिले में अब कुल संक्रमित मरीजों की संख्या बढ़कर 11,070 हो चुकी है. जबकि एक्टिव मरीजों की संख्या 2,600 है. 

रविवार को जिले के मुंगेर शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों में 85, संग्रामपुर में 42, बरियारपुर में 40, धरहरा में 36, हवेली खड़गपुर में 28, जमालपुर में 25, असरगंज में 16, टेटियाबंबर में 13, तारापुर में 8 और बांका का 8, भागलपुर का 3, लखीसराय का 2 तथा पटना का 1 मरीज यहां जांच में पॉजिटिव पाया गया है.

212 मरीज हुए ठीक
जिले में रविवार को जहां कोरोना के 300 से अधिक पॉजिटिव मरीज पाए गए. वहीं, 212 पॉजिटिव मरीज इलाज के बाद ठीक हो गए. सिविल सर्जन डॉ हरेंद्र कुमार आलोक ने बताया कि जिले में रविवार को कोरोना के 212 मरीज इलाज के बाद ठीक हो गए है. जिसके बाद अबतक कुल 8,389 मरीज इलाज के बाद ठीक हो चुके हैं.'

रविवार को जिले में संक्रमण से ठीक होने वाले मरीजों का प्रतिशत भी 0.19% घट गया है. बीते शनिवार को जहां जिले में संक्रमण से ठीक होने वाले मरीजों का प्रतिशत 75.97 था. वहीं, रविवार को यह आंकड़ा 0.19% घटकर 75.78 हो गया है. बीते पांच दिनों में संक्रमण से ठीक होने वाले मरीजों का प्रतिशत देखें तो यह जिले में संक्रमण के बढ़ रहे स्तर को खुद ही बयां करता है. जिले में 6 मई को जहां संक्रमण से ठीक होने वाले मरीजों का प्रतिशत 76.58 था. 7 मई को यह आंकड़ा 1.76% घटकर 74.82 हो गया था. जिसके बाद बीते 8 मई को यह आंकड़ा 1.15% बढ़कर 75.97% हो गया. लेकिन इसके बाद रविवार को दोबारा यह आंकड़ा 0.19% घटकर 75.78 हो गया है.

ये भी पढ़ें- शर्मनाक! DIG ने महिला डॉक्टर के साथ की गंदी हरकत, कॉल रिसीव नहीं करने पर घर में..

अबतक कुल 4,69,051 संदिग्धों की हुई जांच
सिविल सर्जन डॉ हरेंद्र कुमार आलोक ने बताया कि जिले में संक्रमण के प्रथम और दूसरे दौर में अबतक कुल 4,69,051 संदिग्धों की कोविड-19 जांच की जा चुकी है. वहीं, सरकार के आदेशानुसार संक्रमण के बढ़ते मामलों को देखते हुए जिले में प्रतिदिन जांच की संख्या को बढ़ा दिया गया है. जिसमें जिले के विभिन्न जांच केंद्रों पर प्रतिदिन 1 से 2 हजार संदिग्धों की कोविड-19 जांच की जा रही है. 

इसी क्रम में रविवार को जिले के विभिन्न जांच केंद्रों पर कुल 1,414 संदिग्धों की जांच की गई. जिसमें 824 संदिग्धों की जांच एंटीजेन टेस्ट कीट से की गई. जबकि 88 संदिग्धों की जांच ट्रूनेट मशीन में की गई. 502 संदिग्धों के सैंपल को जांच के लिए पटना के पीएमसीएच में भेजा गया है. जिसकी रिर्पोट आनी अभी बाकी है. 

जिले के विभिन्न आइसोलेशन वार्ड में रविवार को 9 पॉजिटिव मरीजों को इलाज के लिए भर्ती कराया गया. जबकि अबतक कुल 51 मरीजों को बेहतर इलाज के लिए हायर सेंटर रेफर किया गया है. साथ ही जिले के विभिन्न आइसोलेशन वार्ड में 49 पॉजिटिव मरीज इलाजरत हैं.

जिले में संक्रमण का स्तर मई माह में और अधिक तेजी से फैलता जा रहा है. इसके कारण 1 अप्रैल से 9 मई के बीच जिले में कोरोना के 7,077 मरीज कोरोना पॉजिटिव पाए गए है. वहीं, केवल 1 से 9 मई के बीच जिले में कोरोना के 2,421 मरीज कोरोना पॉजिटिव पाए गए है. जबकि इसमें से 1,152 मरीज केवल बीते 72 घंटो में पॉजिटिव पाए गए है. जिसके कारण जिले में रविवार को मात्र 24 घंटो में ही संक्रमण का स्तर 0.21% तक बढ़ गया है. 

शनिवार तक जहां संक्रमण का स्तर 78.52 प्रतिशत था. वहीं, यह आंकड़ा रविवार को 0.21 प्रतिशत बढ़कर 76.73 हो गया है. शहर के बाजारों में जिस प्रकार से संक्रमण से बचाव के प्रति आमजन द्वारा उदासीनता बरती जा रही है और इसके साथ ही जिला प्रशासन और पुलिस जिस प्रकार से संक्रमण से बचाव को लेकर सरकार द्वारा जारी गाइडलाइन का पालन कराने को लेकर उदासीन है. उससे आने वाले समय में जिले में संक्रमण का स्तर और अधिक बढ़ सकता है.

बीते 18 अप्रैल से आरंभ हुआ मौत का तांडव लगातार जारी है. इसमें प्रतिदिन एक या दो कोरोना पॉजिटिव की मौत हो रही है. इसी क्रम में रविवार को भी जिले में दो कोरोना संक्रमित मरीजों की मौत हो गई. इसमें हाजी सुभान निवासी 73 वर्षीय तारणी प्रसाद यादव की मौत बीते शनिवार की देर शाम 8 बजे जीएनएम स्कूल आइसोलेशन वार्ड में हो गई.

कुछ दिन कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद परिजनों द्वारा शनिवार की शाम 7 बजे उसे जीएनएम स्कूल आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कराया गया था. उनका ऑक्सीजन लेवल 55 हो गया था. जबकि वे ब्रेथलेस बीमारी से भी परेशान थे. 

वहीं, लखीसराय जिले के हसनपुर निवासी 50 वर्षीय रीता देवी की मौत उनके एक रिश्तेदार के घर बिंदवारा में बीते शनिवार की रात हो गई. जो कुछ दिन पूर्व लखीसराय से बिंदवारा अपने एक रिश्तेदार के घर आई थी. जहां तबीयत बिगड़ने पर उनकी कोविड-19 जांच में पॉजिटिव पाई गई थी. इसके बाद वे अपने परिजन के घर में ही होम आइसोलेट थी. इसी बीच शनिवार की देर रात उनकी मौत हो गई.

(इनपुट- प्रशांत)