'वन नेशन, वन इलेक्शन' पर बोले भूपेंद्र यादव, सभी दलों की सहमति के बाद ही होगा लागू

रविवार को बीजेपी के राष्ट्रीय मीडिया सह प्रभारी संजय मयूख ने एक वेबिनार का आयोजन किया था जिसे पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव और सासंद भूपेंद्र यादव ने भी संबोधित किया. 

'वन नेशन, वन इलेक्शन' पर बोले भूपेंद्र यादव, सभी दलों की सहमति के बाद ही होगा लागू
संजय मयूख ने एक 'वन नेशन, वन इलेक्शन' पर वेबिनार का आयोजन किया था.

नई दिल्ली: रविवार को बीजेपी के राष्ट्रीय मीडिया सह प्रभारी संजय मयूख ने एक 'वन नेशन, वन इलेक्शन' पर वेबिनार का आयोजन किया था जिसे पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव और सासंद भूपेंद्र यादव ने भी संबोधित किया. 

उन्होंने इस वेबिनार में 'वन नेशन, वन इलेक्शन' के लिए फिलहाल कानून बनाने की संभावना से इनकार करते हुए कहा है कि सभी राजनीतिक दलों में आपसी सहमति के बाद ही इसे लागू किया जाएगा. उन्होंने कहा कि यह सिर्फ चर्चा का विषय नहीं बल्कि राष्ट्र की जरूरत है. देश में हर कुछ महीनों में कहीं ना कहीं बड़े चुनाव हो रहे होते हैं. इससे विकास के कार्यों पर विपरीत प्रभाव पड़ता है, साथ ही बड़े पैमाने पर खर्च होता है. 

बीजेपी (BJP) महासचिव ने साथ ही कहा कि एक साथ चुनाव होने से देश और राज्यों के विकास योजनाओं को रफ्तार मिलेगी. बार-बार चुनाव और उसके कारण लगने वाली आचार संहिता से विकास कार्य बाधित नहीं होंगे. उन्होंने कहा कि पांच साल में चुनाव होने से लोकतंत्र की जड़ें उतनी ही मजबूत रहेंगी जितनी अभी हैं. 

भूपेंद्र यादव ने ये भी कहा कि पिछले 70 सालों में देश के मतदाता परिपक्व हो गए हैं. वो स्थानीय और राष्ट्रीय और स्थानीय मुद्दों के हिसाब से वोटिंग करना सीख गए हैं. उन्होंने उदाहरण देते हुए कहा कि लोकसभा चुनाव के समय ही तेलंगाना और ओड़िसा में विधानसभा चुनाव हुआ था. लोकसभा के लिए जहां लोगों ने बीजेपी को चुनाव वहीं, विधानसभा के लिए टीआरएस और बीजेडी को चुना.

साथ ही उन्होंने कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारत राष्ट्र के विकास हेतु बदलाव एवं सुधारों के लिए समर्पित है.