Breaking News
  • बिहार के लोग इतनी बड़ी आपदा का डटकर मुकाबला कर रहे हैं, इसके लिए बधाई: पीएम मोदी
  • बिहार विधान सभा चुनावी रैली में पीएम मोदी ने भोजपुरी में लोगों को किया प्रणाम
  • कोरोना के इस समय में भी गरीबों को सर्वोच्च प्राथमिकता देते हुए एनडीए सरकार ने काम किया: पीएम मोदी

बिहार चुनाव की तारीखों का हो सकता है आज ऐलान, इलेक्शन कमिशन की 12:30 बजे होगी प्रेस कॉन्फ्रेंस

इससे पहले भी चुनाव आयोग बिहार विधानसभा चुनाव कराने को लेकर अपनी गाइडलाइन जारी कर चुका है. साथ ही कई नए नियम बनाए गए हैं ताकि कोरोना काल में बचाव के साथ सभी 243 विधानसभा सीटों पर मुस्तैदी से चुनाव कराया जा सके.

बिहार चुनाव की तारीखों का हो सकता है आज ऐलान, इलेक्शन कमिशन की 12:30 बजे होगी प्रेस कॉन्फ्रेंस
बिहार विधानसभा चुनाव के तारीखों का आज हो सकता है ऐलान, आयोग ने कसी ली है कमर.

पटना: बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Vidhansabha election) के संभावित तारीखों पर सबकी निगाहें टिकी हुई थी. चुनाव आयोग आज चुनावी तिथियों की घोषणा कर सकती है. राजधानी पटना में चुनाव आयोग ने आज प्रेस कॉन्फ्रेंस बुलाया है. बैठक में यह कयास लगाए जा रहे हैं कि निर्वाचन आयोग बिहार विधानसभा चुनाव के तारीखों की घोषणा कर सकती है. 

चुनाव आयोग की आधिकारकि प्रवक्ता शेफाली शरण ने बताया कि बिहार चुनाव को लेकर ही यह प्रेस कॉन्फ्रेंस आयोजित की जा रही है. कोरोना काल में कैसे और कितनी सावधानी से चुनाव कराया जा सकता है, इसको लेकर चुनाव आय़ोग पिछले कई दिनों से प्रयासरत है.

इससे पहले भी चुनाव आयोग बिहार विधानसभा चुनाव कराने को लेकर अपनी गाइडलाइन जारी कर चुका है. साथ ही कई नए नियम बनाए गए हैं ताकि कोरोना काल में बचाव के साथ सभी 243 विधानसभा सीटों पर मुस्तैदी से चुनाव कराया जा सके.

पिछले दिनों निर्वाचन आयोग ने ऑनलाइन नामांकन करने की प्रक्रिया की शुरुआत भी की थी. इसके अलावा प्रत्याशियों के ब्योरे से जुड़े कई गाइडलाइन जारी किए गए हैं. बिहार जहां 243 विधानसभा सीट है, वहां कोरोना काल में चुनाव कराना निर्वाचन आय़ोग के लिए किसी चुनौती से कम नहीं है. लेकिन आयोग अपनी पूरी तैयारी के साथ आने को तैयार है.

इससे पहले चुनाव आयोग ने यह भी स्पष्ट किया था कि डोर-टू-डोर कैंपेनिंग को जितना कम रखकर किया जाए, वो बेहतर होगा. ज्यादा से ज्यादा 5 लोग ही डोर-टू-डोर कैंपेनिंग के लिए जाएं. गाड़ियों के काफिले में जगह बना कर चलने की अनिवार्यता है. 

हालांकि, गृह मंत्रालय ने भी चुनाव प्रचार करने की इजाजत दे दी है. बता दें कि चुनाव का नाम आते ही कई पार्टियां इसके विपक्ष में चली गई थीं. दलों ने चुनाव आयोग से यह अपील की थी कि कोरोना काल में बिहार विधानसभा चुनाव कराने का आईडिया ठीक नहीं है. लेकिन चुनाव आयोग ने यह दिलासा दिया कि सतर्कता औऱ पूरी तैयारी के साथ चुनाव कराया जाएगा.