close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

कोर्ट के फैसले के विरोध में बीएड छात्रों ने किया प्रदर्शन

बिहार के छपरा जिले में बीएड छात्रों ने शुक्रवार को जमकर बवाल काटा. बीएड छात्रों ने शहर के राजेंद्र सरोवर के पास बैठकर सरकार और न्यायालय के फैसले के खिलाफ प्रदर्शन किया है. 

कोर्ट के फैसले के विरोध में बीएड छात्रों ने किया प्रदर्शन
छपरा में बीएड छात्रों ने जमकर प्रदर्शन किया है.

छपराः बिहार के छपरा जिले में बीएड छात्रों ने शुक्रवार को जमकर बवाल काटा. बीएड छात्रों ने शहर के राजेंद्र सरोवर के पास बैठकर सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया है. साथ ही बीएड फीस पर कोर्ट के निर्णय को अनुचित बता कर आक्रोश मार्च निकाला. छात्रों ने शिक्षा मंत्री के खिलाफ भी जमकर नारे लगाये.

दरअसल हाल ही में पटना हाईकोर्ट ने बिहार सरकार को निजी बीएड कॉलेजों की फीस को लेकर आदेश दिया था. कोर्ट ने कहा है कि निजी बीएड कॉलेज की फीस एक लाख रुपये के बजाय डेढ़ लाख रुपये निश्चित की जाये. हाईकोर्ट के जस्टिस चक्रधारी शरण सिंह की एकलपीठ ने 21 जून को यह फैसला सुनाया था.

हाईकोर्ट के इसी फैसले के विरोध में शुक्रवार को छपरा में बीएड छात्रों ने जमकर प्रदर्शन किया. छात्रों ने थाना चौक से नगरपालिका चौक तक आक्रोश मार्च निकाला. छात्रों का कहना है कि कॉलेज की सुविधाओं को देखे बिना सरकार और न्यायालय ने बिहार जैसे पिछड़े राज्य के छात्रों के नाइंसाफी की है. 95 हजार की फीस को एक ही झटके में डेढ़ लाख रुपये करना अनुचित है.

बता दें कि निजी बीएड कॉलेजों की ओर से फीस बढ़ोत्तरी को लेकर हाईकोर्ट में याचिका दायर की गई थी. इससे पहले राज्य सरकार ने निजी बीएड कॉलेजों की फीस एक लाख रुपये निर्धारित की थी. लेकिन सरकार के इसी फैसले के खिलाफ कॉलेज प्रबंधन ने याचिका दायर की थी.

कोर्ट ने फीस तय करने के लिए एक कमिटी बनाई. लेकिन कोर्ट ने पहले ही कह दिया था कि किसी भी हाल में फीस की रकम 1.70 लाख रुपये से अधिक नहीं होनी चाहिए.