close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बिहार के 17 बीजेपी सांसद AES पीड़ित परिवारों की मदद के लिए देंगे 25 लाख रुपये: नित्यानंद राय

बिहार में बीजेपी के सभी सांसद चमकी बुखार से मरने वाले बच्चों के परिवारों को 25 लाख रुपये की राशी से मदद करेगी.

बिहार के 17 बीजेपी सांसद AES पीड़ित परिवारों की मदद के लिए देंगे 25 लाख रुपये: नित्यानंद राय
नित्यानंद राय ने एईएस पीड़ितों के लिए बड़ा ऐलान किया है. (फाइल फोटो)

पटनाः केंद्रीय गृह राज्यमंत्री और बिहार बीजेपी के अध्यक्ष नित्यानंद राय ने अहम ऐलान किया है. उन्होंने कहा है कि बिहार में एईएस से काफी संख्या में बच्चों की मौत हुई है जो काफी दुखद है. ऐसे समय में सरकार जनता के साथ है और केंद्र सरकार के साथ बिहार सरकार लगातार काम कर रही है. वहीं, उन्होंने ऐलान किया है कि बिहार में बीजेपी के सभी सांसद चमकी बुखार से मरने वाले बच्चों के परिवारों को 25 लाख रुपये की राशी से मदद करेगी.

नित्यानंद राय शुक्रवार को रामविलास पासवान के राज्यसभा सदस्यता के लिए नॉमिनेशन प्रक्रिया के लिए पहुंचे थे. इसी दौरान उन्होंने मीडिया से बात करते हुए कहा कि बिहार में जो बीमारी से बच्चे मर रहे हैं इससे उन्हें काफी दुख पहुंचा है. इसलिए केंद्र सरकार और राज्य सरकार स्थिति को काबू में करने के लिए लगातार काम कर रही है.

उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार की ओर से डॉक्टरों की टीम और एयर एंबुलेंस की सुविधा मुहैया कराई जा रही है. उम्मीद है कि जल्द ही सभी बच्चों को इस बीमारी से निजाद मिलेगा.

वहीं, नित्यानंद राय ने कहा कि बिहार में बीजेपी के सभी 17 सांसद अपने अपने जिलों में पीआईसीयू का निर्माण कराएंगे. इसके साथ ही सभी 17 सांसद अपने अपने सांसद निधी से 25 लाख रुपये राशि निर्गत करेंगे. जिससे एईएस बीमारी से मरने वाले बच्चों के परिवारों के लिए मदद किया जाएगा.

नित्यानंद राय ने खुद भी 19 जून को 25 लाख रुपये की राशि निर्गत की है. अब उन्होंने कहा है कि बीजेपी के सभी 17 सांसद 25 लाख रुपये की राशि निर्गत करेंगे.

नित्यानंद राय ने कहा कि केंद्र सरकार और राज्य सरकार इस बीमारी को लेकर गंभीर है. बीमारी को रोकने के लिए आवश्यक कदम भी उठाए जा रहे हैं. और जरूरत पड़ने पर और भी बड़े कदम उठाए जाएंगे. इस दुख की घड़ी में पीड़ित परिवारों के साथ केंद्र और राज्य दोनों सरकार खड़ी है.