बिहारी कलाकारों ने बिखेरा National Film Award में जलवा, दिवंगत सुशांत की 'छिछोरे' चुनी गई बेस्ट फिल्म

National Film Award: बिहार दिवस के दिन बिहार के फिल्मी जगत के दो सितारों को नेशनल अवार्ड (National Film Award) मिला है. 

बिहारी कलाकारों ने बिखेरा National Film Award में जलवा, दिवंगत सुशांत की 'छिछोरे' चुनी गई बेस्ट फिल्म
बिहारी कलाकारों को दिया गया National Film Award. (फाइल फोटो)

Patna: राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार (National Film Award) समारोह के 67वें संस्करण की घोषणा कर दी गई है. जिसमें बिहार दिवस (Bihar Diwas) के दिन बिहार के फिल्मी जगत के दो सितारों को नेशनल अवार्ड (National Award) मिला है. जिसमे मनोज बाजपेयी (Manoj Bajpayee) का नाम है उन्हें अभी तक कई अवार्ड मिल चुके है. वहीं, इस बार राष्ट्रीय फिल्म अवार्ड (National Film Award) के लिए मनोज वाजपेयी को फिल्म भोंसले ( film Bhonsle) और सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) को फिल्म 'छिछोरे' (Chhichhore) के लिए अवार्ड मिला है. 

ये भी पढे़ंः 'भोंसले' को राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार मिलने पर मनोज बाजपेयी बोले-अवॉर्ड सिर्फ मेरे लिए नहीं बल्कि...

बेतिया के रहने वाले मनोज बाजपेयी को 'भोंसले' फिल्म के लिए सर्वश्रेष्ठ अभिनेता का अवार्ड दिया गया है तो पटना के रहने वाले सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की सिनेमाहॉल में रिलीज हुई आखिरी फिल्म 'छिछोरे' को सर्वश्रेष्ठ फीचर फिल्म (Feature Film) का अवार्ड दिया गया है.  यह पहली बार नहीं है, जब नेशनल फिल्म अवार्ड में बिहारी प्रतिभाओं ने अपना नाम लिखवाया है. 

इसकी शुरुआत 1971 में आई हिंदी फिल्म 'फिर भी' से हुई थी. इसमें बिहार के शिवेंद्र सिन्हा (Shivendra Sinha) के निर्देशन में बनी फिल्म को National Film Award में सर्वश्रेष्ठ हिंदी फिल्म का अवार्ड दिया गया था.

ये भी पढे़ंः सबसे बड़े फिल्म सम्मान ने सुशांत के अभिनय को दिया आखिरी सलाम, फिर से लोगों को रूला गई 'छिछोरे'

बता दें कि Manoj Bajpayee चम्पारण से है और इनका घर नरकटियागंज के बेलवा पंचायत में है. इनका घर बेलवा कोठी से मशहूर है मनोज बाजपेयी के माता पिता काफी खुश है. और वह इसे गर्व और फक्र के रूप में देख रहे है.  ग्रामीण चम्पारण के लोग मनोज बाजपेयी की इस उपलब्धि पर खुशी मना रहे है. वहीं, सुशांत सिंह राजपूत का जन्म पटना में हुआ था. इनका घर पटना जिले में है. इनकी बहनों में से मितु सिंह राज्य स्तरीय क्रिकेटर हैं. इनकी मां की मौत के बाद पूरा परिवार टूट गया था और पटना से दिल्ली बस गया था.