बिहार: कैबिनेट की बैठक खत्म, 10 एजेंडों पर लगी मुहर, 1000 माली की होगी बहाली

पटना स्थित IGIC में 383 पदों का सृजन किया जाएगा. कार्डियोलॉजी, कार्डिक कैथ लैब और कार्डिकथैरेपी सर्जरी विभाग में छह पदों का सृजन किया जाएगा. इसके साथ ही. राज्य विविधता पर्षद में भी नौ पदों का सृजन होगा.

बिहार: कैबिनेट की बैठक खत्म, 10 एजेंडों पर लगी मुहर, 1000 माली की होगी बहाली
नीतीश कुमार की अध्यक्षता में हुई कैबिनेट की बैठक में कई एजेंडों पर लगी मुहर.

पटना: मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) की अध्यक्षता में आयोजित बिहार कैबिनेट की बैठक में 10 अहम एजेंडों पर मुहर लगा दी गई है. सरकार राज्य में 1000 मालियों को नौकरी देने जा रही है. इसके साथ ही भवन निर्माण विभाग में भी पद सृजित किए जाएंगे. इसके अलावा पटना स्थिति आईजीआईसी (IGIC) और झंझारपुर स्थिति ट्रॉमा सेंटर के लिए भी पद सृजित किए जाएंगे.

पटना स्थित IGIC में 383 पदों का सृजन किया जाएगा. कार्डियोलॉजी, कार्डिक कैथ लैब और कार्डिकथैरेपी सर्जरी विभाग में छह पदों का सृजन किया जाएगा. इसके साथ ही. राज्य विविधता पर्षद में भी नौ पदों का सृजन होगा.

इसके साथ ही मधुबनी जिला के झंझारपुर स्थित अररिया संग्राम गांव में एनएच-57 के बगल में बने मुरली भेदी झा ट्रॉमा सेंटर के लिए 73 पद सृजित किए जाएंगे. आपको बता दें कि इस ट्रॉम सेंटर के लिए बिहार के जल संसाधन मंत्री संजय झा ने अपने परिवार की जमीन सरकार को दान दी थी. यह अस्पताल काफी पहले बनकर तैयार हो चुका है, लेकिन पद सृजित नहीं हो पाने के कारण इसका फायदा फिलहाल लोगों को नहीं मिल पा रहा है.

सरकार के इस निर्णय के बाद ट्रॉमा सेंटर पर इलाज शुरू होने की आश जगी है. संजय झा ने इसके लिए नीतीश कुमार के प्रति आभार भी जताया है. आज के कैबिनेट की बैठक में जल संसाधन विभाग के अभियंता प्रमुख इंदु भूषण कुमार को एक साल का सेवा विस्तार देने के फैसले पर भी मुहर लगी है.