किसान आंदोलन पर बोले नीतीश कुमार, संदेह मिटाने के लिए केंद्र से करनी चाहिए बात

किसानों को नए कृषि बिलों पर संदेह मिटाने के लिए केंद्र से बात करनी चाहिए. संसद में पारित कृषि बिलों के विरोध में मुख्यत: पंजाब और यूपी के किसान सड़कों पर हैं.

किसान आंदोलन पर बोले नीतीश कुमार, संदेह मिटाने के लिए केंद्र से करनी चाहिए बात
नीतीश कुमार ने किसानों के आंदोलन पर प्रतिक्रिया दी है.

पटना: बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि किसानों को नए कृषि बिलों पर संदेह मिटाने के लिए केंद्र से बात करनी चाहिए. संसद में पारित कृषि बिलों के विरोध में मुख्यत: पंजाब और यूपी के किसान सड़कों पर हैं.

नीतीश कुमार (Nitish Kumar) पटना के सबसे लंबे इलेवेटेड रोड के उद्घाटन के मौके पर सोमवार को बोल रहे थे. यह इलेवेटेड रोड दीघा से एम्स पटना के बीच 12.5 किलोमीटर लंबा है.

कुमार ने कहा, "केंद्र सरकार लगातार उनसे बातचीत करने के लिए कह रही है. इन बिलों से खरीद पर कोई प्रभाव पड़ने का कोई सवाल ही नहीं है. बिहार में, मैं जैसे की मुख्यमंत्री बना था, हमने एपीएमसी को हटा दिया. तब से हम न्यूनतम समर्थन मूल्य सुनिश्चित करके किसानों की खरीफ और रबी सफल की खरीद कर रहे हैं. वे अपने उत्पाद कहीं भी बेच सकते हैं. इससे पहले किसानों को अपने जिले की बाजार समिति में उत्पादों को बेचना पड़ता था."

मुख्यमंत्री ने कहा, "जब किसानों और केंद्र सरकार के बीच बातचीत होगी, हम निश्चिंत हैं कि संदेह को समाप्त कर लिया जाएगा. किसानों को उनके एमएसपी से ज्यादा दाम मिलेगा." (इनपुट: IANS)