close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बिहार में डेंगू का कहर, 24 घंटे ब्लड बैंक खुला रखने का निर्देश

सुशील मोदी ने निर्देश दिया है कि सभी ब्लड बैंक 24 घंटे खुले रहेंगे. इसके अलावा सरकारी अस्पतालों के बाहर के मरीजों के लिए भी वहां प्लेटलेट्स निकलवाए जा सकेंगे.

बिहार में डेंगू का कहर, 24 घंटे ब्लड बैंक खुला रखने का निर्देश
डेंगू को देखते हुए ब्लड बैंक 24 घंटे खुले रखने का निर्देश दिया गया है. (प्रतीकात्मक फोटो)

पटनाः बिहार में डेंगू की रोकथाम के लिए उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी की अध्यक्षता में गुरुवार को एक बैठक की गई. बैठक में स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव संजय कुमार, नगर विकास एवं आवास विभाग के प्रधान सचिव चैतन्य प्रसाद, पटना नगर निगम में आयुक्त अनुपम कुमार सुमन, पीएमसीएच, एनएमसीएच एवं आरएमआरआईएमएस के पदाधिकारीगण व अन्य लोग उपस्थित थे.

बैठक के दौरान सुशील मोदी ने निर्देश दिया है कि सभी ब्लड बैंक 24 घंटे खुले रहेंगे. इसके अलावा सरकारी अस्पतालों के बाहर के मरीजों के लिए भी वहां प्लेटलेट्स निकलवाए जा सकेंगे.

अनेक निजी नर्सिग होम द्वारा रैपिड डायग्नोस्टिक किट से प्राप्त जाँच रिर्पोट पॉजिटिव आने पर डेंगू कन्फर्म कर दिया जाता है. जबकि इसके लिए एनएस-1 टेस्ट की रिपोर्ट कराना अनिवार्य होता है. मोदी ने पीएमसीएच, एनएमसीएच एवं आरएमआरआईएमएस में मुफ्त जांच शिविर लगाने का निर्देश देते हुए आम लोगों से अपील की कि यहां आकर डेंगू की मुफ्त जाँच करायें.

उन्होंने कहा कि भारत सरकार द्वारा निर्धारित मानक के अनुसार प्लेटलेट काउंट 10 हजार से कम होने पर ही उसे चढ़ाया जाना चाहिए. जबकि अनेक निजी नर्सिंग होम द्वारा 60-70 हजार प्लेटलेट काउंट रहने पर भी मरीजों को उसे चढा दिया जाता है, जो उचित नहीं है. साथ ही यह भी आवश्यक नहीं कि प्लेटलेट मरीज के ब्लड ग्रुप का ही होना चाहिए.

उन्होंने कहा कि पटना नगर निगम द्वारा एंटी लार्वा दवा का छिड़काव और फॉगिंग लगातार करवाया जा रहा है, जिससे मलेरिया, फाइलेरिया आदि बीमारियों की रोकथाम में मदद मिलेगी. विभिन्न अस्पतालों में अनेवालों में से डेंगू 10 प्रतिशत से भी कम मरीज मिले हैं. 

उन्होंने लोगो से अपील की है कि वे अपने आस-पास जलजमाव न होने दें, क्योंकि साफ पानी में ही डेंगू के मच्छर पनपते हैं.