बिहारः शहीद पिंटू सिंह को श्रद्धांजलि देने पटना एयरपोर्ट नहीं पहुंचे सरकार के मंत्री

शहीद पिंटू सिंह को श्रद्धांजलि देने बिहार सरकार के कोई मंत्री पटना एयरपोर्ट नहीं पहुंचे थे.

बिहारः शहीद पिंटू सिंह को श्रद्धांजलि देने पटना एयरपोर्ट नहीं पहुंचे सरकार के मंत्री
बेगूसराय के लाल शहीद पिंटू सिंह का किया गया अंतिम संस्कार.

पटनाः जम्मू-कश्मीर के हंदवाड़ा में शहीद हुए बिहार के बेगूसराय के लाल पिंटू सिंह का रविवार को सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया. इससे पहले सुबह पटना एयरपोर्ट पर शहीद पिंटू सिंह का पार्थिव शरीर को लाया गया. जहां कई नेताओं ने उन्हें श्रद्धांजलि दी. हालांकि राज्य सरकार के किसी भी मंत्री के वहां मौजूद नहीं होने से विपक्ष इस पर निशाना साध रहा है. हालांकि, नीतीश कुमार ने रविवार को संकल्प रैली के मंच से पिंटू सिंह को सलाम किया.

बेगूसराय जिले के शहीद इंस्‍पेक्‍टर पिंटू कुमार सिंह का अंतिम संस्कार पूरे राजकीय सम्मान के साथ उनके पैतृक गांव में किया गया. शहीद का शव पहुंचते ही जन सैलाब उमड़ पड़ा. लोगों ने भारत जिंदाबाद और पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे लगाए. लेकिन विपक्ष ने आरोप लगाया कि सत्ताधारी दल संकल्प रैली को लेकर इतने मस्त थे कि उन्हें शहीद पिंटू सिंह को श्रद्दाजंलि देने का वक्त नहीं मिला. 

कांग्रेस नेता प्रेमचंद्र मिश्रा ने कहा कि बीजेपी और जेडीयू के सारे वरिष्ठ नेता और मंत्री पटना में मौजूद रहे लेकिन शहीद पिंटू सिंह के शव पर कोई फूल चढ़ाने तक नहीं पहुंचा. उन्होंने कहा बीजेपी सिर्फ दिखावे की देशभक्ति करती है. 

वहीं तेजस्वी यादव ने भी ट्वीट कर कहा कि एनडीए की नेताओं ने शहीद का अपमान किया है. उन्होंने कहा पटना एयरपोर्ट पर शहीद पिंटू सिंह का शव रखा था और दूसरी तरफ गांधी मैदान में फूलों से सजे राजनीतिक मंच पर ये फर्जी देशभक्त शहीदों के नाम पर वोटों की खेती कर कर रहे थे.

हालांकि, एनडीए की संकल्प रैली में पीएम मोदी समेत सीएम नीतीश कुमार और रामविलास पासवान ने शहीद पिंटू सिंह का नाम लिया और उनके शहादत को उन्होंने सलाम किया.

विपक्ष की बात करें तो प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष मदन मोहन झा फिर बाद में आरजेडी नेता शिवानंद तिवारी भी वहां मौजूद रहे. एयरपोर्ट पर एसएसपी गरिमा मलिक सहित सीआरपीए के अधिकारियों ने शहीद पिंटू सिंह को श्रद्धांजलि दी. शुक्रवार की शाम करीब सात बजे उत्तरी कश्मीर के बाबूगुंड हंदवाड़ा में सीआरपीएफ और आतंकियों के बीच मुठभेड़ में पांच जवान शहीद हो गए थे. उनमें बेगूसराय ज़िले के बखरी प्रखंड के राटन पंचायत अंतर्गत बगरस ध्यानचक्की गांव निवासी चक्रधर प्रसाद सिंह के बेटे पिंटू कुमार सिंह भी शामिल थे. 

शहीद पिंटू सिंह का शव रविवार की सुबह 8.15 बजे सीमा सुरक्षा बल के हेलीकॉप्‍टर से पटना एयरपोर्ट पर लाया गया. वहां श्रद्धांजलि देने के बाद शव को हेलीकॉप्‍टर से शहीद के पैतृक गांव भेज दिया गया, जहां राजकीय सम्‍मान के साथ उनका अंतिम संस्‍कार किया गया . शहीद पिंटू सिंह के शव को लेने उनकी बहन और भाभी एयरपोर्ट पर मौजूद थीं. शहीद पिंटू कुमार सिंह अपने पीछे पत्नी व पांच साल की बेटी को छोड़ गए हैं.