बिहार: युवक की हत्‍या का आरोपी एमएलसी का बेटा अब तक फरार

बिहार के गया जिले में एक युवक की हत्‍या का आरोपी जेडीयू महिला विधायक का बेटा रॉकी अब तक फरार है। मीडिया रिपोर्टों के अनुसार, आरोपी रॉकी के दिल्‍ली भागने की खबर है। वहीं, पुलिस ने आरोपी की गिरफ्तारी के लिए टीमें बनाई हैं और बिहार पुलिस की एक टीम दिल्‍ली के लिए रवाना हो गई है। आरोपी के पिता ने सफाई दी है कि बेटे ने बचाव में गोली चलाई। दूसरी ओर, युवक की हत्‍या के विरोध में आज गया में बंद है और लोगों ने आरोपी की गिरफ्तारी की मांग की है। आरोपी के पिता बिंदी यादव और बॉडीगार्ड को न्‍यायिक हिरासत में भेज दिया गया है।

बिहार: युवक की हत्‍या का आरोपी एमएलसी का बेटा अब तक फरार

पटना: बिहार के गया जिले में एक युवक की हत्‍या का आरोपी जेडीयू महिला विधायक का बेटा रॉकी अब तक फरार है। मीडिया रिपोर्टों के अनुसार, आरोपी रॉकी के दिल्‍ली भागने की खबर है। वहीं, पुलिस ने आरोपी की गिरफ्तारी के लिए टीमें बनाई हैं और बिहार पुलिस की एक टीम दिल्‍ली के लिए रवाना हो गई है। आरोपी के पिता ने सफाई दी है कि बेटे ने बचाव में गोली चलाई। दूसरी ओर, युवक की हत्‍या के विरोध में आज गया में बंद है और लोगों ने आरोपी की गिरफ्तारी की मांग की है। आरोपी के पिता बिंदी यादव और बॉडीगार्ड को न्‍यायिक हिरासत में भेज दिया गया है।

बिहार के गया जिले में जदयू की महिला विधायक के बेटे ने रविवार को 20 साल के एक युवक की कथित रूप से गोली मारकर हत्या कर दी थी। पुलिस लाइन के समीप रात करीब आठ बजे जदयू विधान परिषद की सदस्य मनोरमा देवी के पुत्र रॉकी कुमार यादव की रेंज रोवर को आदित्य कुमार सचदेवा की कार के ओवरटेक करने पर दोनों पक्षों में झगड़ा हो गया और रॉकी ने कथित रूप से गोली मारकर आदित्य कुमार की हत्या कर दी।

पुलिस के अनुसार रॉकी फरार चल रहा है जबकि अपने बाहुबल एवं धनबल के लिए इलाके में चर्चित उसके हिस्ट्री शीटर पिता बिंदेश्वरी प्रसाद यादव उर्फ बिंदी यादव एवं विधायक के सुरक्षाकर्मी को आरोपी को भागने में कथित मदद पहुंचाने को लेकर गिरफ्तार किया गया है। चश्मदीदों के अनुसार जब सचदेवा और उसके दोस्तों ने रॉकी की रेंज ओवर को ओवर टेक किया तब उसने और उसके लोगों ने सचदेवा की स्विफ्ट कार रोकी। दोनों पक्षों में झगड़ा हुआ और जब सचदेवा और उसके दोस्त वहां से जाने लगे तब रॉकी ने पीछे से उनकी गाड़ी पर गोलियां चलायीं। गोली पीछे के शीशे को चीरते हुए सचदेवा को लगी और उसकी मौत हो गयी। सचदेवा एक व्यापारी का बेटा था। मगध क्षेत्र के पुलिस उप महानिरीक्षक सौरभ कुमार ने बताया कि आदित्य को अनुग्रह नारायण कालेज अस्पताल ले जाया गया जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

वहीं, बिंदी यादव और मनोरमा देवी के सुरक्षा गार्ड राजेश कुमार को गिरफ्तार कर लिया गया है। बिंदी यादव पहले राजद्रोह के मामले में जेल जा चुके हैं और वर्ष 2001 में पुलिस ने उनके पास से एक प्रतिबंधित हथियार की 6000 गोलियां बरामद की थीं। बिंदी यादव ने दावा किया है कि उनका बेटा निर्दोष है और उन युवकों ने उससे मारपीट की। वो युवक नशे में थे। हालांकि उनके बेटे के पास लाइसेंसशुदा हथियार है जो झगड़े के दौरान चल पड़ा और सचदेवा की मौत हो गई। उन्होंने कहा कि आखिरकार सभी को आत्मरक्षा का अधिकार है। इस घटना से राजनीतिक पारा गर्म हो गया है। इसी बीच, बिहार से जदयू के राज्यसभा सदस्य केसी त्यागी ने कहा कि कानून अपना काम करेगा और दोषी दंडित किए जाएंगे।