बेगूसराय के लाल शहीद पिंटू सिंह का पार्थिव शरीर पहुंचा पैतृक गांव, उमड़ा जनसैलाब

आतंकियों के साथ मुठभेड़ में बिहार के बेगूसराय के सीआरपीएफ जवान पिंटू सिंह भी शहीद हुए थे. 

बेगूसराय के लाल शहीद पिंटू सिंह का पार्थिव शरीर पहुंचा पैतृक गांव, उमड़ा जनसैलाब
बेगूसराय के पिंटू सिंह हंदवाड़ा में शहीद हो गए.

बेगूसरायः जम्मू-कश्मीर के हंदवाड़ा में शुक्रवार को सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच बड़ी मुठभेड़ हुई थी. इसमें सीआरपीएफ के अफसर समेत 5 जवान शहीद हो गए थे. जबकि चार जख्मी हो गए थे. इससे पहले ही सुरक्षाबलों ने हंदवाड़ा में दो आतंकियों को ढेर कर दिया था. वहीं, आतंकियों के साथ मुठभेड़ में बिहार के बेगूसराय के सीआरपीएफ जवान पिंटू सिंह भी शहीद हुए थे. उनका पार्थिव शरीर उनके गांव बखरी लाया गया है. जहां लोगों का जनसैलाब उमड़ पड़ा.

शहीद पिंटू सिंह का पार्थिव शरीर रविवार सुबह को पटना एयरपोर्ट पर लाया गया. जहां उन्हें कई नेतआों ने श्रद्धांजलि दी. एयरपोर्ट पर कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष मदन मोहन झा शहीद पिंटू सिंह को श्रद्धांजलि दी. वहीं, बताया जा रहा है कि सत्ताधारी दल से कोई भी बड़े नेता पटना एयरपोर्ट पर मौजूद नहीं थे.

Bihar martyr Pintu Singh body reached Begusaria

वहीं, सीआरपीएफ के शहीद इंस्पेक्टर पिंटू सिंह का पार्थिव शव को बीएसएफ के हेलीकॉप्टर से उनके पैतृक गांव बेगूसराय के बखरी पहुंचाया गया. बखरी रामपुर कॉलेज मैदान में जब शहीद के शव के साथ हेलीकॉप्टर पहुंचा तो वहां हजारों की संख्या में लोग मौजूद थे.

Bihar martyr Pintu Singh body reached Begusariaरामपुर कॉलेज के मैदान में ही शहीद पिंटू सिंह को गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया. इस मौके पर डीएम राहुल कुमार, एसपी अवकाश कुमार, बखरी विधायक उपेंद्र पासवान समेत हजारों की संख्या में लोग वहां मौजूद थे. फिर वहीं से एक श्रद्धांजलि यात्रा निकाली गई.

शहीद के श्रद्धांजलि यात्रा में सड़कों पर हजारों लोगों की भीड़ जुट गई. पूरा इलाका शहीम पिंटू सिंह अमर रहे और भारत माता की जय के नारों से गूंज रहा था. वहीं, लोग लगातार पाकिस्तान मुर्दाबाद के नारे भी लगा रहे थे. शहीद पिंटू सिंह को अंतिम बार एक झलक दिखने के लिए लोग रास्ते पर खड़े थे और उनकी आंखें नम थी.