close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

शराबबंदी पर सरकार को घेरने की कोशिश, विपक्ष ने कहा- फेल है नीतीश कुमार की शराबबंदी

बिहार विधानपरिषद में बजट पर चर्चा के दौरान विपक्षी सदस्यों ने सरकार पर आरोप लगाया है कि बिहार में शराबबंदी पूरी तरह से फेल है. 

शराबबंदी पर सरकार को घेरने की कोशिश, विपक्ष ने कहा- फेल है नीतीश कुमार की शराबबंदी
विपक्ष ने सरकार को शराबबंदी पर घेरने की कोशिश की है. (फाइल फोटो)

पटनाः बिहार विधानपरिषद में बजट पर चर्चा के दौरान विपक्षी सदस्यों ने सरकार पर आरोप लगाया है कि बिहार में शराबबंदी पूरी तरह से फेल है. विपक्षी सदस्यों ने सरकार पर आरोप लगाया कि भले ही नीतीश कुमार कहते हों कि शराब नहीं बिक रही लेकिन हककीत है कि हर चौक-चौराहों पर शराब की बिक्री हो रही है. जिसे जरूरत है वह शराब पी रहा इतना हीं नहीं अब तो होम डिलिवरी हो रही है.

आरजेडी एमएलसी सुबोध राय ने कहा की मेरे सरकारी आवास के पास भी अवैध शराब बिक रहा है. लेकिन पुलिस कुछ नहीं कर रही है.  

वहीं, कांग्रेस के विधानपार्षद प्रेमचंद मिश्रा ने कहा कि शराबबंदी के नाम पर बिहार को बेवकूफ बनाया जा रहा हर बिहार में कहने को शराबबंदी है. जबकि हर जगह शराब की बोतलें दिख रही है. नीतीश कुमार की शराबबंदी फेल है. कहीं न कहीं इसमें बड़े लोग शामिल हैं. शराबबंदी के नाम पर अवैध कमाई की जा रही है.

विपक्ष के आरोप से तिलमिलाए बिहार सरकार के मंत्री नीरज कुमार ने कहा की अगर कहीं शराब बिक रही है तो यह लोग टॉल फ्री नंबर पर फोन क्यों नहीं करते है. इनकी जिम्मेदारी है कि वह टॉल फ्री नंबर पर फोन करे. जो लोग फोन करेंगे उनका नाम भी गुप्त रहेगा और कार्रवाई भी हो जाएगी.

बिहार में शराब बंदी है लेकिन शराब अभी भी पकड़े जा रहे है जो यह साबित करता है की प्रसाशन इसके लिए लगातार लगी हुई है. व्यवस्था में कोई कमी नहीं है. शराब को लेकर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने खुद संज्ञान में लेकर अब थानों में प्रभारियों के लिए नियम बना दिये है. जो शराब के मामले में सरकारी कर्मी है उनपर करवाई भी की जा रही है.