close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

बिहारः बेगूसराय में पुलिस अपराधियों के बीच मुठभेड़, हथियारों के साथ 4 गिरफ्तार

बलिया थाना क्षेत्र के गंगा दियारा के हुसैना-नौरंगा गंगा घाट पर शुक्रवार को अपराधियों की पकड़ने गई एसटीएफ व पुलिस टीम के साथ अपराधियों में मुठभेड़ हो गई.

बिहारः बेगूसराय में पुलिस अपराधियों के बीच मुठभेड़, हथियारों के साथ 4 गिरफ्तार
बेगूसराय में पुलिस ने दियारा क्षेत्र से चार अपराधियों को गिरफ्तार किया है.

बेगूसरायः बिहार के बेगूसराय जिला में एसटीएफ आईजी के निर्देश पर बलिया थाना क्षेत्र के गंगा दियारा के हुसैना-नौरंगा गंगा घाट पर शुक्रवार को अपराधियों की पकड़ने गई एसटीएफ व पुलिस टीम के साथ अपराधियों में मुठभेड़ हो गई. अपराधियों से मुठभेड़ में यहां कई राउंड फायरिंग हुई. इस ऑपरेशन का नेतृत्व खुद एसपी अवकाश कुमार द्वारा किया जा रहा था.

खबरों के अनुसार, ऑपरेशन के दौरान एसटीएफ की टीम ने एक थ्री फिप्टीन राइफल, 18 इंच का दो व छह इंच का दो देसी पिस्तौल, करीब डेढ़ सौ राउंड जिंदा कारतूस के साथ चार शातिर अपराधियों को गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है. गिरफ्तार अपराधियों की पहचान बलिया थाना क्षेत्र के मिर्जापुर निवासी पेवन महतो का पुत्र राजाराम महतो, कस्बा निवासी चंद्रदेव यादव उर्फ हकरू यादव का पुत्र रुदल यादव, बबुरबन्नी-किशनपुर निवासी चंद्र देव महतो का पुत्र दिनेश महतो एवं नयागांव थाना क्षेत्र के सोनबरसा-मथार दियारा निवासी कपिल देव यादव का पुत्र रणधीर यादव के रूप में हुई है.

गिरफ्तार अपराधियों पर स्थानीय थाना में कई आपराधिक मामले दर्ज पाये गये हैं. वहीं, मुठभेड़ के दौरान दिलीप यादव व एक अन्य शातिर अपराधी भागने में सफल रहे. सूत्रों की माने तो एसटीएफ को सूचना मिली थी कि शुक्रवार को किसी बड़ी घटना को अंजाम देने के इरादे से थाना क्षेत्र के हुसैना-नौरंगा गंगा घाट पर अपराधियों का जमावड़ा लगने वाला है. 

सूचना के आधार पर एसटीएफ की टीम पूर्व से घात लगाये दियारा के जंगलों में छुपे हुए थे. घाट पर अपराधियों के पहुंचते ही एसटीएफ की टीम आ धमकी. जिसे देख अपराधियों ने ताबड़तोड़ फायरिंग शुरू कर दी. जिसके जवाबी कार्रवाई में एसटीएफ की टीम ने भी फायरिंग की. 

करीब एक घंटा तक दोनों तरफ से दर्जनों राउंड गोलीबारी के बाद एसटीएफ ने चारों शातिर अपराधियों को हथियार के साथ गिरफ्तार करने में कामयाबी हासिल की. एसटीएफ के पहुंचने के बाद सूचना मिलते ही बलिया एएसपी अंजनी कुमार सिंह, थानाध्यक्ष सुनील कुमार, पुलिस अधिकारी विपिन कुमार सिंह भारी मात्रा में पुलिस बल के साथ घटनास्थल पर पहुंचे. 

मुठभेड़ के बाद भागे गये दो अपराधियों एवं उनके द्वारा फेंके गये हथियार की बरामदगी के लिये पुलिस घंटों दियारा के जंगलों को खंगाला. दियारा के जंगलों में पकड़े गये इन अपराधियों की गिरफ्तारी के लिये पुलिस को भारी मशक्कत करनी पड़ी.