बिहार: 12 घंटों से रुकी है बारिश, जलदूत बनकर लोगों की मदद में जुटे हैं NDRF के जवान

राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (NDRF) के सदस्य जलदूत बनकर लोगों की मदद में जुटे हैं. लोगों को नावों के जरिए मदद पहुंचा रहे हैं.

बिहार: 12 घंटों से रुकी है बारिश, जलदूत बनकर लोगों की मदद में जुटे हैं NDRF के जवान
बिहार की राजधानी पटना में लोगों को सुरक्षित जगहों पर ले जाते NDRF के जवान. (तस्वीर- ANI)

पटना : बिहार में हुई मूसलाधार बारिश (Bihar Rain) के बीच पटना जलमग्न हो गया है. कई जगहों पर चार से पांच फीट तक पानी जमा हो गया है. इस कारण से लोगों को काफी परेशानी हो रही है. इस सबके बीच राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (NDRF) के सदस्य जलदूत बनकर लोगों की मदद में जुटे हैं. लोगों को नावों के जरिए मदद पहुंचा रहे हैं. एनडीआरएफ के जवानों ने हाईकोर्ट के जज को ऑफिस जाने में मदद की वहीं, जरूरतमंदों को अस्पताल तक पहुंचा रहे हैं.

तीन दिनों की भीषण बारिश के बाद पटना (Patna) समेत पूरे बिहार में आज यानी सोमवार को मौसम सामान्य हो गया है. पिछले 12 घंटों से अधिक समय से पटना में बारिश रुकी हुई है. मौसम विभाग ने मौसम सामान्य होने की बात कही है.

वहीं, इस सबके बीच आरोप-प्रत्यारोप का दौर भी जारी है. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के आरोप लगाया था कि मौसम विभाग ने सही पूर्वानुमान नहीं दी है, इसके कारण से ऐसे हालात उत्पन्न हो गए हैं. मुख्यमंत्री के इस आरोप को मौसम विभाग के उपनिदेशक आनंद शंकर ने खारिज कर दिया है. आनंद शंकर ने कहा है कि 19 सितम्बर से राज्य को मौसम खराब होने की अलर्ट करती रही है.

ज्ञात हो कि सोमवार को पटना का न्यूनतम तापमान 22.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है. मौसम विभाग ने अपने पूर्वानुमान में कहा है, 'अगले 24 घंटे के दौरान पटना सहित राज्य के अधिकांश क्षेत्रों में बादल छाए रहेंगे तथा कई इलाकों में भारी बारिश के आसार हैं.'