कोविड टेस्टिंग के मामले में बिहार ने देश में कीर्तिमान स्थापित कियाः मंगल पांडेय

स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि अभी तक 1,26,411 लोग कोरोना को मात दे चुके हैं. सूबे में अब कोरोना से संक्रमित लोगों की संख्या 16,981 बच गई है.

कोविड टेस्टिंग के मामले में बिहार ने देश में कीर्तिमान स्थापित कियाः मंगल पांडेय
मंगल पांडेय ने कहा कि बिहार में कोरोना से रिकवरी दर 88 फीसदी है. (फाइल फोटो)

पटना: बीजेपी के वरिष्ठ नेता और बिहार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय (Mangal Pandey) ने कहा कि राज्य ने कोरोना की जांच के मामले में अन्य राज्यों को पीछे छोड़ देश में कीर्तिमान स्थापित किया है. बिहार में एक दिन में सबसे ज्यादा जांच करने वाला राज्य बन गया है.

उन्होंने कहा कि सूबे में पिछले 24 घंटे में रिकार्ड डेढ़ लाख से ज्यादा सैंपलों की जांच की गई है. अभी तक किसी भी राज्य में एक दिन में डेढ़ लाख सैंपलों की जांच नहीं हुई है. केंद्र और राज्य सरकार के सहयोग से स्वास्थ्य विभाग ने इतनी बड़ी संख्या में सैंपलों की जांच कर लोगों के बीच अच्छा संदेश दिया है. 

पांडेय ने कहा कि सूबे में अभी तक जहां 37,21,250 लोगों की विभिन्न मेडिकल कॉलेज सह अस्पताल एवं सरकारी अस्पतालों में जांच की गई, वहीं पिछले 24 घंटे में 1,50195 सैंपलों की जांच की गई. स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि जांच की संख्या बढ़ने से संकमण दर तेजी से घट रहा है. इसका उदाहरण है कि पिछले 24 घंटे में मात्र 1,978 लोग कोरोना से संक्रमित पाए गए हैं. रिकवरी रेट भी लगातार बढ़ रहा है और करीब 88 फीसदी पर स्थिर है.

उन्होंने कहा कि अभी तक 1,26,411 लोग कोरोना को मात दे चुके हैं. सूबे में अब कोरोना से संक्रमित लोगों की संख्या 16,981 बच गई है, जिनकी स्थिति में भी लगातार सुधार हो रहा है. उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य विभाग कोरोना मरीजों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं मुहैया करा रहा है. संक्रमण दर में कमी के बावजूद कोविड डेडिकेटेड अस्पतालों के अलावा आइसोलेशन सेंटरों में बेडों की संख्या में बढ़ोतरी जारी है.

स्वास्थ्य मंत्री ने बिहार की जनता को इस कोरोना काल में सरकार को सहयोग देने के लिए साधुवाद देते हुए कहा कि लोगों ने इस आपदा से निपटने में पूरी तरह शासन के दिशा-निर्देश का अनुपालन किया, जिसके चलते सरकार इस महामारी पर काबू पाने की दिशा में तेजी से आगे बढ़ रही है. वहीं दूसरी ओर विपक्ष इसे भयावह बनाने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ रहा है.