close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

'रेखा मेरी सगी बहन नहीं, एजेंसी कार्रवाई के लिए स्वतंत्र हैं'- सुशील मोदी

बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी और तेजस्वी यादव के बीच आरोप-प्रत्यारोप का दौर जारी है. सुशील मोदी ने एक बार फिर लालू परिवार और तजेस्वी यादव पर हमला बोला है. 

'रेखा मेरी सगी बहन नहीं, एजेंसी कार्रवाई के लिए स्वतंत्र हैं'- सुशील मोदी
सुशील मोदी ने तेजस्वी यादव पर पलटवार किया है. (फोटो साभारः Twitter)

पटनाः बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी और तेजस्वी यादव के बीच आरोप-प्रत्यारोप का दौर जारी है. आरजेडी नेता तेजस्वी यादव ने सृजन घोटाले को लेकर खुलासे का दावा किया था. और सुशील मोदी और उनके रिश्तेदारों के खिलाफ सबूत पेश करने की बात कही थी. जिसके बाद सुशील मोदी भी लगातार तेजस्वी यादव पर हमला बोल रहे हैं.

सुशील मोदी ने एक बार फिर लालू परिवार और तजेस्वी यादव पर हमला बोला है. उन्होंने ट्वीट कर एक लेटर पोस्ट किया है. जिसमें उन्होंने लिखा है कि, 'तेजस्वी की बहनें मीसा,रागिनी,चंदा की तरह रेखा मेरी सगी नहीं, एजेंसी कार्रवाई के लिए स्वतंत्र हैं.'

सुशील मोदी ने लिखा, 'रेखा मेरी दो दर्जन ममेरी, फुफेरी, चचेरी बहनों में से एक है. वह कहां रहती है और वह क्या व्यापार करती है. उससे न तो मेरे परिवार का दूर-दूर तक कोई संबंध हैं और न मैंने आपकी तरह कभी कोई व्यापार किया. जिसमें वह मेरे साथ है.'

'आप (तेजस्वी यादव) तो अपनी बहनों के साथ आधे दर्जन से अधिक कंपनियों में साझीदार है और भ्रष्टाचारजनित बेनामी कारोबार में शामिल हैं. सीबीआई या कोई भी एजेंसी किसी भी तरह की कार्रवाई करती है तो, लालू यादव की तरह किसी को संरक्षण देने या बचाने वाला नहीं हूं. पुलिस और जांच एजेंसी कार्रवाई करने के लिए स्वतंत्र है.'

सुशील मोदी ने कहा, ' सूबे की मुख्यमंत्री और लंबे समय तक वित्त मंत्री राबड़ी देवी के कार्यकाल में घोटाला शुरु हुआ. सृजन खातों में सरकारी धन जमा करने का निर्देश अधिकारियों को दिया गया. सरकार में रहते हुए आरजेडी ने इस मामले को उजागर करने की क्यों नहीं किया?'

'सीबीआई मामले की जांच कर रही है, जो दोषी होगा उसके खिलाफ निश्चित कठोर कार्रवाई होगी. चाहे वह सगा ही क्यों ने हो, मैं लालू यादव ने नहीं हूं कि अपराध में संलिप्त अपने परिवार के किसी भी सदस्य को बचाने की हद तक जाऊंगा.