New Year 2021 में कई जनहितकारी योजनाओं की सौगात देगा जल संसाधन विभाग

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की महत्वाकांक्षी हर खेत तक सिंचाई का पानी कार्यक्रम के टेक्निकल सर्वे का काम शुरू हो गया है. इसे 100 दिन के अंदर पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है. 

New Year 2021 में कई जनहितकारी योजनाओं की सौगात देगा जल संसाधन विभाग
नए साल में में कई जनहितकारी योजनाओं की सौगात देगा जल संसाधन विभाग. (फाइल फोटो)

पटना: जल संसाधन विभाग ने 2021 को लेकर कई योजनाएं बना रखी हैं, जिन्हें इस साल पूरा किया जाएगा. इनमें हर खेत को पानी देने संबंधी योजना सबसे अहम है, जिसका एक सौ दिन में टेक्निकल सर्वे का काम पूरा किया जाना है. जल संसाधान की जिन योजनाओं के पूरा किया जाना है, उनसे लाखों लोगों को सिंचाई की सुविधा तथा बाढ़ से राहत मिलेगी.

हर खेत तक पानी
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की महत्वाकांक्षी हर खेत तक सिंचाई का पानी कार्यक्रम के टेक्निकल सर्वे का काम शुरू हो गया है. इसे 100 दिन के अंदर पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है. सर्वे पूरा होने के बाद हर खेत तक सिंचाई का पानी पहुंचने के लिए डीपीआर (DPR) बनाने का काम शुरू होगा.

गंगा जल उद्वह योजना
जल संसाधन विभाग की महत्वाकांक्षी गंगा जल उद्वह योजना के पहले चरण का काम 2021 में पूरा हो जाएगा. इससे गया और राजगीर शहरों को पेयजल की समस्या से राहत मिलेगी. पहले चरण में दोनों शहरों के लिए 2021 तक के लिए प्रक्षेपित जल की मांग क्रमशः 43.0 मिलियन क्यूबिक मीटर (MCM) और 7.0 एमसीएम की आपूर्ति सुनिश्चित की जाएगी.

पश्चिमी कोसी नजर परियोजना
परियोजना से दरभंगा और मधुबनी जिले के लाखों किसान लाभांवित होंगे. 2021 में इस योजना के झंझारपुर शाखा नहर के खैरी नहर का बचा हुआ काम पूरा किया जाएगा. साथ ही साथ झंझारपुर शाखा नहर का कार्य भी पूरा कर लिया जाएगा. पश्चिमी कोसी नहर प्रमंडल केवटी के अंतर्गत पश्चिमी कोसी नहर परियोजना के किंग्स नहर से निस्सृत वलाट, दड़ीमा, परसौनी, सिमरी एवं बरही छोटी नहर का बचा काम पूरा किया जाएगा.

अभिषेक पुष्करणी सरोवर का जीर्णोद्धार होगा
वैशाली में प्रसिद्ध विश्व शांति स्तूप के निकट करीब 2500 साल पुराना अभिषेक पुष्करणी सरोवर स्थित है. यह प्राचीन सरोवर पूर्णतः सूख गया था. जल संसाधन विभाग द्वारा सरोवर को पुनर्जीवित किया जा रहा है. इसके लिए वैशाली शाखा नहर से प्रेसर पाइप द्वारा जल की आपूर्ति की जाएगी. यह कार्य जुलाई 2021 तक पूर्ण होगा.

बाढ़ से सुरक्षा की योजनाएं
बाढ़ से सुरक्षा के लिए जल संसाधन विभाग हमेशा प्रयासरत रहता है. 2021 में भी कई बाढ़ सुरक्षात्मक योजनाओं को जल संसाधन विभाग द्वारा पूरा किया जाएगा. बदलाघाट नगरपाड़ा तटबंध, खगड़िया की किमी 17.5 से 35.615 के बीच कुल 16.675 किमी की लंबाई में तटबंध का उच्चीकरण, सुदृढ़ीकरण एवं शीर्ष पक्कीकरण कार्य, रोसड़ा बूढ़ी गंडक बायां तटबंध के किमी 85.00 से 98.00 तक उच्चीकरण, सुदृढ़ीकरण एवं पक्कीकरण कार्य पूरा किया जाएगा. कमला बलान बायां तटबंध के किमी 102.38 से किमी 105.35 तक तटबंध का विस्तारीकरण एवं तीन अदद एंटी फ्लड स्लुइस निर्माण एवं नए तटबंध का सुरक्षात्मक कार्य पूर्ण होगा.

2021 में बख्तियारपुर बाढ़ प्रमंडल अंतर्गत सरकट्टी जमींदारी बांध, लालपुर नीरपुर जमींदारी बांध, कोंदी जमींदारी बांध, दरवे बहादुर जमींदारी बांध, बाथोई जमींदारी बांध के उच्चीकरण एवं सुदृढ़ीकरण कार्य और पटना जिला अंतर्गत घोसवरी प्रखंड के त्रिमुहान ग्राम में मुहाने नदी के दाएं किनारे पर बाढ़ सुरक्षात्मक कार्य भी पूरा किया जाएगा.

Amita Kumari, News Desk