बिहार में अब दंगाइयों की खैर नहीं, दंगों से निपटने अब अलग होगा 'दंगा रोधी बल'

बिहार में अब दंगाइयों की खैर नहीं, दंगों से निपटने अब अलग होगा 'दंगा रोधी बल'

सूत्रों का कहना है कि अगले साल से दंगा रोधी बल तैयार हो जाएगा. इसके लिए प्रशिक्षण का कार्य प्रारंभ कर दिया गया है. 

बिहार में अब दंगाइयों की खैर नहीं, दंगों से निपटने अब अलग होगा 'दंगा रोधी बल'

पटना: बिहार में अब सांप्रदायिक दंगों (Communal Viloance) से निपटने के लिए अपना दंगा रोधी बल होगा. इसके लिए पुलिस मुख्यालय ने तैयारी प्रारंभ कर दी है. पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि पुलिस मुख्यालय की निगरानी में दंगा रोधी बल की कुल 55 कंपनियां तैयार हो रही हैं. उन्होंने कहा कि इसके लिए अलग से बहाली नहीं होगी, बल्कि जिला पुलिस बल और बिहार सैन्य पुलिस बल (BMP) में ही इसका गठन होगा. 

सूत्रों का कहना है कि अगले साल से दंगा रोधी बल तैयार हो जाएगा. इसके लिए प्रशिक्षण का कार्य प्रारंभ कर दिया गया है. 

दंगा रोधी कंपनी को त्वरित कार्य बल यानी रैपिड एक्शन फोर्स (RAF) की तर्ज पर तैयार किया जा रहा है. विशेष प्रशिक्षकों की देखरेख में प्रशिक्षण दिया जा रहा है. 

पुलिस अधिकारियों का कहना है कि विशेष प्रशिक्षण का मकसद भीड़ को नियंत्रित करने के दौरान जानमाल का कम से कम नुकासन होने पर है. इसमें हथियारबंद जवानों की संख्या कुल जवानों की एक-तिहाई ही होगी. 

उन्होंने कहा कि प्रशिक्षण के दौरान पुलिस बलों को कम से कम बल का प्रयोग कर भीड़ को नियंत्रित करने के गुर सिखाए जा रहे हैं. इस बल की पहचान भी अलग होगी.

(IANS इनपुट के साथ)

Trending news