बिहारः छठ पूजा करने आ रही महिला की ट्रेन में पीट-पीट कर हत्या, घर में मचा कोहराम

बिहार स्थित डेहरी ऑन सोन में छठ पूजा करने के लिए जालंधर से आ रही एक महिला की ट्रेन में हत्या कर दी गई.

बिहारः छठ पूजा करने आ रही महिला की ट्रेन में पीट-पीट कर हत्या, घर में मचा कोहराम
महिला की ट्रेन में मनचले युवकों ने की हत्या.

रोहतास: बिहार स्थित डेहरी ऑन सोन में छठ पूजा करने के लिए जालंधर से आ रही एक महिला की ट्रेन में हत्या कर दी गई. इस घटना के बाद पूरे परिवार में कोहराम मचा हुआ है. बताया जाता है कि लखनऊ के शाहजहांपुर के समीप चलती ट्रेन में मनचलों ने सिगरेट पीने से मना करने पर पीटकर मार डाला. वहीं, इस मामले में क्षेत्रीय सांसद और केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा ने रेलमंत्री से मुआवजा और आरोपी के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की है.

खबरों के अनुसार, डालमियानगर की मकराईन निवासी 50 वर्षीय चिंतादेवी अपने बेटे राहुल व बहू बबीता के साथ जालंधर से छठ पूजा करने टाटा अमृतसर जालियावाला बाग एक्सप्रेस ट्रेन से घर आ रही थी. इसी दौरान जनरल कोच में बैठे तीन युवकों ने सिगरेट पीना शुरू कर दिया. जब उन्हें सिगरेट पीने से मना किया गया तो उन्होंने महिला के बेटे बहु को पीटना शुरू कर दिया.

वहीं, महिला चिंतादेवी ने उन्हें मना किया तो युवक अभद्रता करने लगे. बचाव करने सामने आये बेटे राहुल व बहु बबीता को भी युवकों ने जमकर पीटा. उसके बाद बेटे-बहू का बचाव करने आई चिंतादेवी की भी युवकों ने पिटाई की, जिससे उनकी मौत हो गई. इस दौरान एक आरोपी चेन पुलिंग कर फरार हो गया. हालांकि बताया जा रहा है कि एक आरोपी रेल पुलिस के हत्थे चढ़ गया है.

पकड़ा गया युवक आजमगढ़ के कप्तानगंज का रहने वाला है. उसका नाम सोनू है. उसके साथियों के बारे में जीआरपी पूछताछ कर रही है. इधर हादसे के बाद अब घर में कोहराम मचा है. मां की मौत के बाद उनकी दो बेटियों और दो बेटों का रो-रो कर बुरा हाल है.

बताया जाता है कि बच्चों के पिता का 10 साल पूर्व ही देहांत हो गया था. जिसके बाद मां किसी तरह से सभी बच्चों को पाल-पोष कर बड़ा किया था. वहीं, छठ की तैयारी भी की जा रही थी. 

बेटों ने बताया कि मां छठ करने वाली थी और वह ट्रेन से ही घर में पर्व की तैयारियों की जानकारी ले रही थी. वह काफी खुशी-खुशी छठ करने के लिए घर आ रही थी. लेकिन अपराधियों ने उनकी हत्या कर दी. इस घटना के बाद पूरे इलाके में भी शोक की लहर दौड़ गई है.

इस घटना पर संज्ञान लेते हुए क्षेत्रीय सांसद और केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा ने रेलमंत्री से मुआवजा और आरोपी के खिलाफ कार्रवाई करने की मांग की है. उन्होंने कहा कि यह एक दुखद घटना है. ट्रेन में यात्रियों की सुरक्षा की जिम्मेदारी रेल प्रशासन की है. लेकिन रेल प्रशासन सुरक्षा देने में विफल दिख रहा है.

उन्होंने रेल मंत्री से यात्रियों की सुरक्षा सुनिश्चित करने और इस घटना की जांच कर ट्रेन में तैनात पुलिसकर्मियों पर कार्रवाई करने की भी मांग की है.