BPSC 67th Prelims: 1 सीट पर 830 अभ्यर्थियों की लंबी फौज, ऐसे करें बेहतर तैयारी
X

BPSC 67th Prelims: 1 सीट पर 830 अभ्यर्थियों की लंबी फौज, ऐसे करें बेहतर तैयारी

 इस भर्ती के तहत विभिन्न विभागों में कुल 726 रिक्त पदों (Vacancies) को भरा जाना है. यानी 1 सीट के लिए 830 अभ्यर्थियों की लंबी फौज है. ऐसे में, परीक्षा में उत्तीर्ण होना उम्मीदवारों के लिए आसान नहीं होगा.

BPSC 67th Prelims: 1 सीट पर 830 अभ्यर्थियों की लंबी फौज, ऐसे करें बेहतर तैयारी

BPSC 67th Prelims: बिहार लोक सेवा आयोग (BPSC) की 67वीं संयुक्त प्रारंभिक परीक्षा (Preliminary Exam) का आयोजन 23 जनवरी 2022 को राज्य के विभिन्न परीक्षा केंद्रों पर किया जाना है. इसके लिए आवेदन की प्रक्रिया 19 नवंबर को समाप्त की जा चुकी है. प्रीलिम्स एग्जाम के लिए कुल 602221 आवेदन प्राप्त हुए हैं. जिनमें फीमेल कैंडिडेट्स (Female Candidates) की संख्या 182545 है. यानी कि महिला उम्मीदवारों के फॉर्म भरने का प्रतिशत भी इस बार अधिक है.

स्ट्रेटजी बनाकर करें तैयारी 
बता दें कि इस भर्ती के तहत विभिन्न विभागों में कुल 726 रिक्त पदों (Vacancies) को भरा जाना है. यानी 1 सीट के लिए 830 अभ्यर्थियों की लंबी फौज है. ऐसे में, परीक्षा में उत्तीर्ण होना उम्मीदवारों के लिए आसान नहीं होगा. फिरभी यदि स्ट्रेटजी बनाकर सुनियोजित तरीके से तैयारी की जाए तो निश्चित ही सफलता मिलेगी.

सबसे पहले जान लें परीक्षा पैटर्न
किसी भी एग्जाम को क्रैक करने के लिए परीक्षा पैटर्न और सिलेबस की पूरी जानकारी रखना सबसे महत्वपूर्ण होता है. बीपीएससी प्रीलिम्स में सामान्य अध्ययन (General Study) का एक ऑब्जेक्टिव पेपर (Objective) होगा. परीक्षा के लिए उम्मीदवारों को 2 घंटे का समय मिलेगा और कुल 150 बहुविकल्पीय प्रश्न (MCQ) होंगे. परीक्षा में निगेटिव मार्किंग (Negative Marking) का प्रावधान नहीं है.

इन टॉपिक्स से पूछे जाते हैं सवाल
BPSC PT में सामान्य विज्ञान, भारत के इतिहास और बिहार के इतिहास की प्रमुख विशेषताएं, भारतीय राष्ट्रीय आंदोलन और इसमें बिहार का योगदान, राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय महत्व की समसामयिक घटनाएं, सामान्य भूगोल, बिहार के प्रमुख भौगोलिक प्रभाग और यहां की प्रमुख नदियां, भारत की राज्य व्यवस्था और आर्थिक व्यवस्था, आजादी के बाद बिहार की अर्थव्यवस्था में प्रमुख परिवर्तन और जनरल रीजनिंग से प्रश्न पूछे जाते हैं. ऐसे में, उम्मीदवारों को अधिक से अधिक इन विषयों का अध्ययन करना चाहिए.

ये भी पढ़ें- Bihar Police: ड्राइवर कॉन्स्टेबल शारीरिक दक्षता परीक्षा के नतीजे घोषित, करें चेक

एक अच्छा शेड्यूल बनाएं
बेहतर तैयारी के लिए अपने दिन को अध्ययन के वर्गों में विभाजित करें. आप जिस भी सब्जेक्ट (Subject) की तैयारी कर रहे हैं, उसे क्वालिटी टाइम (Quality Time) दें. आपकी पढ़ाई के लिए एक अच्छा शेड्यूल (Schedule) एक प्रमुख आवश्यकता है. आप जो टाइम टेबल बनाते हैं उसका ईमानदारी से पालन करें.

पिछले वर्षों के पेपर की करें प्रैक्टिस
उम्मीदवारों को पिछले वर्षों के पेपर्स की अधिक से अधिक प्रैक्टिस करनी चाहिए. परीक्षा की तैयारी के लिए यह उत्तम स्रोत है. पिछले वर्षों के प्रश्नपत्रों का अभ्यास करके आप जांच कर सकते हैं कि प्रश्नपत्र कैसे सेट होगा. इसलिए पिछले कुछ वर्ष के पेपर का अभ्यास करेंगे तो निश्चित ही फायदा होगा. इससे आपका कॉन्फिडेंस भी बढ़ेगा.

टाइम मैनेजमेंट के लिए दें मॉक टेस्ट
एग्जाम के लिए टाइम मैनेजमेंट (Time Management) को बेहतर बनाने के लिए सबसे अच्छा तरीका मॉक टेस्ट (Mock Test) है. वहीं, सैंपल पेपर (Sample Paper) का भी खूब अभ्यास (Practice) करें. उम्मीदवारों को अपने समय प्रबंधन की जांच करने के लिए अधिक से अधिक मॉक टेस्ट देने चाहिए. इससे अभ्यर्थी को अपनी क्षमता के बारे में भी जानकारी प्राप्त हो जाती है और उन्हें अपने स्ट्रांग और विक फील्ड का पता चल जाता है.

Trending news