Karwa Chauth 2021: जानिए बिहार-झारखंड में कब खिलेगा चांद, क्या है सरगी का मुहूर्त
X

Karwa Chauth 2021: जानिए बिहार-झारखंड में कब खिलेगा चांद, क्या है सरगी का मुहूर्त

Karwa Chauth 2021: करवा चौथ पर पूजा का शुभ समय 24 अक्टूबर 2021 को शाम 06:55 मिनट से लेकर 08:51 मिनट तक रहेगा. वहीं, करवा चौथ पर चंद्रोदय का वक्त रात 8 बजकर 11 मिनट का है.

 

Karwa Chauth 2021: जानिए बिहार-झारखंड में कब खिलेगा चांद, क्या है सरगी का मुहूर्त

Patna: Karwa Chauth 2021: करवा चौथ आने में अब केवल एक दिन का समय बचा है. आने वाली 24 अक्टूबर को त्योहार मनाया जा रहा है. किसी भी त्योहार में शुभ मुहूर्त बेहद ही महत्वपूर्ण माना जाता है. कहा जाता है कि अगर शुभ मुहूर्त के दौरान कार्य किए जाते हैं तो वह व्रत दोगुना फलदाई होता है. ऐसे में जरूरी है कि करवा चौथ से जुड़ी पूजा मुहूर्त, सरगी मुहूर्त, उपवास मुहूर्त, चंद्रोदय का समय आदि के बारे में जानकारी होनी चाहिए.

यह होगा सरगी का समय
करवा चौथ पर पूजा का शुभ समय 24 अक्टूबर 2021 को शाम 06:55 मिनट से लेकर 08:51 मिनट तक रहेगा. वहीं, करवा चौथ पर चंद्रोदय का वक्त रात 8 बजकर 11 मिनट का है. जबकि बिहार के कई शहरों में जैसे मुजफ्फरपुर, भागलपुर, गया और झारखंड के रांची, बोकारो, धनबाद में सरगी का शुभ समय व्रत रखने से पहले 5 बजे से 6 बजे के बीच बताया जा रहा है.

चंपारण में परंपरा
हालांकि चंपारण में सदियों पुरानी परंपरा है कि यहां गउर (करवाचौथ) व्रत को सुहागिन एवं कुंआरी कन्याएं दोनों पूरे उत्साह के निर्जला करती है. यहां करवाचौथ व्रत ही गउर व्रत है.  इस दिन व्रती नदी में स्नान कर ही घर लौटती हैं. उसके बाद सामूहिक रूप से दीवार पर बनाए गए परंपरागत रंगोली के समीप बैठकर विधिवत पूजा करती हैं. चंपारण के इलाके में सरगी की परंपरा नहीं है. हालांकि नई बहुएं अब ऐसा भी करने लगी हैं.

सरगी नहीं आशीर्वाद है
करवा चौथ में सरगी का खास महत्‍व होता है. इसे सूर्योदय से पहले खाते हैं. महिलाएं अपना व्रत सरगी खाकर ही शुरू करती हैं. घर परिवार में बड़ी बुजुर्ग महिलाएं या सास ही सरगी का खाना अपनी बहू को देती है. जिसे आशीर्वाद के तौर पर देखा जाता है. सरगी खाने का लाभ यह होता है कि इसे खाने के बाद व्रत रखने वाली व्रती दिनभर एनर्जी में रहती है. 

 

Trending news