सोनिया की बैठक पर बिहार में बयानबाजी तेज, BJP-JDU ने कांग्रेस पर साधा निशाना

निखिल आनंद ने सोनिया गांधी के वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग पर निशाना साधते हुए कहा कि, लॉकडाउन के बाद से देश में कांग्रेस के 'भैया' और 'दीदी' ने राजनीतिक कचरा और रायता फैलाने का काम किया है.

सोनिया की बैठक पर बिहार में बयानबाजी तेज, BJP-JDU ने कांग्रेस पर साधा निशाना
सोनिया की बैठक पर बिहार में बयानबाजी तेज, BJP-JDU ने कांग्रेस पर साधा निशाना. (फाइल फोटो)

पटना: 22 मई को कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) के द्वारा विपक्षी नेताओं के साथ  वीडियो कॉन्फ्रेंस मीटिंग होगी. इसको लेकर बिहार में राजनीति शुरू हो गई है. जेडीयू और बीजेपी ने कहा कि, कांग्रेस का मजदूरों पर बात करना एक बहाना है, बल्कि बिखरे हुए कुनबे को पटरी पर लाने की कोर्शिश की जा रही है.

वहीं, कांग्रेस ने सत्ताधारी दल को 'अज्ञानी' बताया है. जबकि बीजेपी ने कहा कि, आरजेडी, आरएलएसपी, वीआईपी और एचएएम का कांग्रेस बिहार में इस्तेमाल कर अपना राजनीति चमकना चाहती है. दरअसल, सोनिया गांधी 22 मई को विपक्षी दलों की बैठक बुलाई है. लेकिन कोरोना संकट को लेकर इन दलों के नेता वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के जरिए जुड़ेंगे.

जेडीयू ने इस मीटिंग को लेकर निशाना साधा है. पार्टी के प्रवक्ता राजीव रंजन ने कहा कि, कांग्रेस मजदूरों के नाम पर सियासत कर रही है. यह वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग चुनाव के सिलसिले में होगी और किसकी क्या भागीदारी रहेगी इस पर यह बात करेंगे.

उन्होंने कहा कि, मजदूरों को लेकर जिस तरह कांग्रेस और आरजेडी का नजरिया है, उसको सभी जानते हैं. कांग्रेस ने किसी भी राज्य में मजदूरों के भलाई के लिए कोई बड़ा फैसला नहीं लिया है. 22 मई की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग विपक्ष के बिखरे हुए कुनबे को समझने की कोशिश जरूर हो सकती है.

वहीं, बीजेपी प्रवक्ता निखिल आनंद ने सोनिया गांधी के वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग पर निशाना साधते हुए कहा कि, लॉकडाउन (Lockdown) के बाद से देश में कांग्रेस के 'भैया' और 'दीदी' ने राजनीतिक कचरा और रायता फैलाने का काम किया है.

उसी के समेटने के लिए सोनिया गांधी आईवास करेंगी. उन्होंने कहा कि, आरएलएसपी, हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा, वीआईपी पार्टी, आरजेडी का इस्तेमाल करके कांग्रेस अपनी राजनीति चमकाना चाहती है.

इधर, कांग्रेस के विधान पार्षद प्रेमचंद्र मिश्रा ने बीजेपी-जेडीयू पर निशाना साधते हुए कहा, 'यह अज्ञानी लोग हैं. बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष बिहार में चुनाव की तैयारी करने की बात कर रहे हैं और इन सत्ताधारी दलों को यह नहीं दिख रहा है.' उन्होंने कहा कि, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी गठबंधन के साथियों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग करेंगी. साथ ही, कोरोना और मजदूरों पर चर्चा करेंगी.

प्रेमचंद्र मिश्रा ने कहा कि, सरकार कुछ नहीं कर पा रही है और इस मीटिंग में राष्ट्रीय स्तर पर चर्चा होगी, ना की बिहार पर कोई चर्चा होगी. वहीं, आरजेडी विधायक विजय प्रकाश ने कहा की सरकार के लोग यह बताएं कि, भारत सरकार में और बिहार सरकार में असमंजस की स्थिति क्यों है?

विजय प्रकाश ने कहा कि, मजदूर सड़क पर है और दोनों सरकार कुछ नहीं कर रही है. उन्होंने कहा कि, क्या यही डबल इंजन की सरकार है. महागठबंधन अगर चुनाव की बात करती है तो क्या बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जो चुनाव की बात कह रहे हैं, उनके लिए कोरोना का कहर नहीं है. आरजेडी नेता ने कहा कि, दोहरी नीति और दोहरा चरित्र बीजेपी करती है.