रिम्स में इलाज के दौरान गोली से घायल बीजेपी नेता की मौत

झारखंड के रांची स्थित रिम्स अस्पताल में बीजेपी नेता गणेश मुंडा का इलाज चल रहा था. लेकिन इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई है. गणेश मुंडा को सोमवार (23 अप्रैल) को गोली लगी थी. जिसके बाद उनका इलाज रिम्स अस्पताल में चल रहा था. 

रिम्स में इलाज के दौरान गोली से घायल बीजेपी नेता की मौत
बीजेपी नेता गणेश मुंडा की रिम्स में इलाज के दौरान मौत हो गई.

रांचीः झारखंड के रांची स्थित रिम्स अस्पताल में बीजेपी नेता गणेश मुंडा का इलाज चल रहा था. लेकिन इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई है. गणेश मुंडा को सोमवार (23 अप्रैल) को गोली लगी थी. जिसके बाद उनका इलाज रिम्स अस्पताल में चल रहा था. बीजेपी नेता गणेश मुंडा को रांची के ही खूंटी-तमाड़ रोड पर किताहातू गांव के नजदीक सोमवार शाम को गोली मारी गई थी. गणेश को दो गोलियां लगी थी. जो उनके कंधे और कमर में लगी थी. जबकि 4 गोलियां उन्हें छूती हुई निकल गई थी. बीजेपी नेता गणेश मुंड की मौत पर मुख्यमंत्री रघुवर दास ने भी शोक जताया है. और मुख्यमंत्री ने उनके नाम 2 लाख रुपये पार्टी की ओर से देने का ऐलान किया है. 

बीजेपी नेता गणेश मुंडा पर अज्ञात अपराधियों ने गोलियां चलायी थी. गोली लगने के बाद वह गंभीर रूप से घायल हो गए थे. रिम्स में उनका इलाज किया जा रहा था लेकिन उनकी हालत बिगड़ती चली गई और उनकी मौत हो गई.

गौरतलब है कि सोमवार शाम को बीजेपी नेता गणेश मुंडा खाना-खाने के बाद टहल रहे थे. वह किताहातू में पुराने प्लांट के पास थे तभी पांच अज्ञात अपराधियों ने गोलिया बरसा दी. अपराधी वहां घात लगाकर बैठे थे और मौका मिलते ही गोलियां चलाने लगे. गोलियों की अवाज सुनकर पुलिस मौके पर पहुंची. जहां गणेश मुंडा जमीन पर पड़े मिले.

गांव वालों की मदद से उन्हें सदर अस्पताल ले जाया गया लेकिन उन्हें डॉक्टरों ने रिम्स रेफर कर दिया. लेकिन रिम्स में इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई. बता दें कि दो माह पहले भी किताहातू में हीं बीजेपी नेता और मुखिया दशाय मुंडा को जान से मारने के लिए माओवादियों ने गोलियां चलायी थी. इस घटना में वह बुरी तरह घायल हो गए थे.

फिलहाल इस गणेश मुंडा की मौत के बाद इलाके में दहशत फैला हुआ है. वहीं, पुलिस ने कड़ी कार्रवाई का निर्देश दिया है. लेकिन अब तक ऐसी कोई जानकारी नहीं मिली है कि गणेश मुंडा की हत्या के पीछे किसका हाथ है.