झारखंड: सांसद वेतन कटौती को लेकर बीजेपी MP का बयान, बताया स्वागतयोग्य कदम

इसके संदर्भ में अध्यादेश लाने का निर्णय हुआ. सरकार ने दो वर्षों यानी वर्ष 2020-21 और 2021-22 तक के लिए सांसद निधि को अस्थायी तौर पर स्थगित करने का निर्णय लिया है.

झारखंड: सांसद वेतन कटौती को लेकर बीजेपी MP का बयान, बताया स्वागतयोग्य कदम
झारखंड: सांसद वेतन कटौती को लेकर बीजेपी MP का बयान, बताया स्वागतयोग्य कदम. (फाइल फोटो)

रांची: केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा ने सोमवार को कैबिनेट की बैठक में लिए गये दो महत्वपूर्ण निर्णयों का स्वागत किया है. उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार की यह अच्छी पहल है. 

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में हुई मंत्रिमंडल और मंत्रिपरिषद की बैठक में कोरोना वायरस संकट के मद्देनजर सांसदों के वेतन में एक साल के लिए 30 फीसदी की कटौती होगी. 

इसके संदर्भ में अध्यादेश लाने का निर्णय हुआ. सरकार ने दो वर्षों यानी वर्ष 2020-21 और 2021-22 तक के लिए सांसद निधि को अस्थायी तौर पर स्थगित करने का निर्णय लिया है.

अब प्रत्येक सांसद की दो वर्ष की निधि यानी 10 करोड़ की राशि कोरोना वायरस के कारण उपजे संकट से लड़ने के लिए स्वास्थ्य संसाधन जुटाने में दी जाएगी.

कोरोना से लड़ाई में सरकार की इस पहल का सभी स्वागत कर रहे हैं. इसस पहले सभी सांसदों ने अपने एक महीने के वेतन पीएम रिलीफ फंड में जमा किए.