झारखंड: 15 लाख लोगों को राशन कार्ड देगी सरकार, BJP बोली-केंद्र की योजना का श्रेय ले रहे CM हेमंत

वित्त मंत्री रामेश्वर उरांव ने कहा, 'गरीब लोग जिनके पास राशन कार्ड नहीं है, ऐसे 15 लाख लोगों को राज्य सरकार इस योजना से जोड़ने जा रही है.'

झारखंड: 15 लाख लोगों को राशन कार्ड देगी सरकार, BJP बोली-केंद्र की योजना का श्रेय ले रहे CM हेमंत
झारखंड के मुख्यमंत्री हैं हेमंत सोरेन. (फाइल फोटो)

रांची: झारखंड की हेमंत सोरेन सरकार को आगामी 29 दिसंबर को एक वर्ष पूरे हो जाएंगे. इस मौके पर सरकार अपनी एक साल की उपलब्धियों को लेकर जनता के बीच जाएगी. साथ ही हेमंत सरकार इस मौके पर राज्य की जनता को योजनाओं की सौगात भी देने जा रही है. जानकारी के अनुसार, सरकार इस मौके पर राशन कार्ड वितरण (Ration Card Distribution) योजना की शुरुआत करने जा रही है. इसी क्रम में खाद्य आपूर्ति विभाग झारखंड में 15 लाख लोगों के परिवार को इस योजना से जोड़ने जा रही है. 

दरअसल, झारखंड सरकार की प्रथामिकता राज्य के गरीब लोग हैं. कोविड काल में जिस तरह से राज्य सरकार ने अपने स्तर से बिना कार्ड वाले लोगों को भी राशन कार्ड मुहैय्या कराने का काम किया और किसी को भूखा नहीं रहने दिया, उसी कड़ी को आगे बढ़ाते हुए राज्य सरकार अब अपनी सरकार के कार्यकाल के 1 वर्ष पूरे होने पर उस लोगों को राशन कार्ड उपलब्ध कराने जा रही, जिनके पास कार्ड नहीं है.

वहीं, कांग्रेस नेता और झारखंड सरकार में वित्त मंत्री रामेश्वर उरांव ने कहा, 'गरीब लोग जिनके पास राशन कार्ड नहीं है, ऐसे 15 लाख लोगों को राज्य सरकार इस योजना से जोड़ने जा रही है. 29 दिसंबर से राशन कार्ड वितरण योजना की शुरुआत होने जा रही है.' उरांव ने कहा, 'हर कमी को दूर किया जाएगा. खाद्य आपूर्ति विभाग छोटा जरुर है, पर जो अनाज गरीबो के लिए है वह गरीबों तक पूरा पूरा जाए ये भी सुनिश्चित किया जा रहा है. साथ में जो बजट बनेगा उसमें ये ख्याल रखा जाएगा कि इस विभाग के जरिए अधिक से अधिक लोगों को रोजगार मिले.'

जेएमएम प्रवक्ता मनोज पांडेय ने कहा, 'झारखंड की जनता ने प्रचंड जनादेश महागठबंधन की सरकार को दिया है. हम लोगों ने जनता से जो वादे किए है उसे 5 साल में हेमंत सरकार पूरे करेगी. हमारी सरकार जनभावना के अनुरुप चलने वाली जन सरोकार की सरकार है. 15 लाख लोगों को राशन कार्ड से जोड़ना बहुत बड़ी बात है. 29 दिसंबर को राशन कार्ड दिए जाएंगे ,जनता के प्रति एक कमिटमेंट था, उस कमिटमेंट को हमारी सरकार पूरी कर रही है. हेमंत सरकार में आने वाले समय मे जन सरोकार से जुड़े कई मामले दिखेंगे.'

इधर, बीजेपी सांसद पीएन सिंह में कहा, 'हेमंत सोरेन (Hemant Soren) सरकार के एक वर्ष का काल खंड असफल सरकार का काल खंड है. सारे विकास के कार्य ठप्प पड़े हुए हैं. सारे अधिकार सरकार ले रही है. एक रुपए का विकास कार्य नहीं हुआ है. राशन कार्ड बांटने का जहां तक सवाल है, तो धन्य है बीजेपी वाली हमारी मोदी सरकार जिसका श्रेय हेमंत सोरेन ले रहे हैं.'