बिहार: उपेंद्र कुशवाहा पर BJP का निशाना, बोली- खिसियानी बिल्ली खम्भा नोचने वाली बात

बीजेपी नेता नवल यादव ने कहा कि उपेंद्र कुशवाहा को महागठबंधन में कोई नोटिस नहीं लेता है. जब मंत्री थे तब कुछ किए नहीं. 

बिहार: उपेंद्र कुशवाहा पर BJP का निशाना, बोली- खिसियानी बिल्ली खम्भा नोचने वाली बात
उपेंद्र कुशवाहा पर बीजेपी ने हमला किया है.

पटना: राष्ट्रीय लोक समता पार्टी (RLSP) के प्रमुख उपेंद्र कुशवाहा (Upendra Kushwaha) के अनशन पर सुशील मोदी (Sushil Modi) के ट्वीट के बाद बिहार की राजनीति फिर से गरमा गई है. उपेन्द्र कुशवाहा और उनकी पार्टी के नेता सुशील मोदी को चुनौती दे डाला है. पार्टी के प्रवक्ता माधव आंनद ने कहा है कि सुशील मोदी बिना फीस के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) के वकील बने हुए हैं. साथ ही 12 -13 साल से उपमुख्यमंत्री के कुर्सी पर बैठे हुए हैं.

माधव आनंद ने कहा कि बिहार की जो दुर्गति हुई है वह नीतीश कुमार और सुशील मोदी की देन है. आरएलएसपी नेता ने कहा कि सुशील मोदी दरवाजा खोल कर रखिये प्रमाण के साथ आएंगे आपके पास. 
 
वहीं, सुशील मोदी पर कुशवाहा के चैलेंज को लेकर बीजेपी (BJP) ने पलटवार किया है. पार्टी के प्रवक्ता नवल यादव ने कहा है की कुशवाहा सुशील मोदी को क्या चैलेंज करेंगे. सुशील मोदी के आशीर्वाद से पांच साल केंद्र में मंत्री रहे.  खिसियानी बिल्ली खम्भा नोचने वाली बात है कि उनको महागठबंधन में कोई नोटिस नहीं लेता है. जब मंत्री थे तब कुछ किए नहीं. बीजेपी नेता ने कहा कि कुशवाहा जिस थाली में खाते हैं, उसी में छेद करते हैं. 

इधर, आरजेडी विधायक राहुल तिवारी ने कहा की कुशवाहा और मोदी अपनी व्यक्तिगत लड़ाई लड़ रहे हैं और एक दूसरे को नीचे ऊपर दिखाना चाहते हैं. राजनीति में बहुत लोग जिस पत्तल में खाते है उसमे छेद करते हैं. लोग अपने सुविधा के अनुसार एक-दूसरे पार्टी में जाते रहते है और गठबंधन करते रहते हैं. ये बात कहने वाले पर भी लागु होता है की जिस पत्तल में खाते हैं उसमे छेद करते  हैं. 

वहीं, वीआईपी (VIP) के राष्ट्रीय अध्यक्ष मुकेश सहनी ने कहा की जो भी बयानबाजी एनडीए (NDA)  की ओर से किया जा रहा है वह बंद करें. उपेंद्र कुशवाहा की मांग सही है और महागठबंधन कुशवाहा के साथ है.