close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

तेजस्वी के लौटते ही सियासत शुरू, बीजेपी ने कहा- 'लौटकर जन सरोकार छोड़ जाति की राजनीति कर रहे'

 20 अगस्त को पटना पहुंचते ही तेजस्वी यादव एक्टिव नजर आए. तेजस्वी अतिक्रमण हटाओ अभियान के तहत पटना रेलवे स्टेशन के पास दूध बाजार को तोड़े जाने के विरोध में बुधवार रात धरने पर बैठ गए.  

तेजस्वी के लौटते ही सियासत शुरू, बीजेपी ने कहा- 'लौटकर जन सरोकार छोड़ जाति की राजनीति कर रहे'
तेजस्वी यादव का सपोर्ट करने के लिए उनके भाई तेजप्रताप यादव भी पहुंचे थे.

पटना: बीजेपी के एमएलसी सच्चिदानंद राय ने मीडिया से बातचीत करते हुए तेजस्वी यादव के आंदोलन पर चुटकी ली आनंद राय ने कहा कि उन्हें और उनकी पार्टी को उम्मीद थी कि तेजस्वी यादव जब लौटेंगे तो बिहार की बात करेंगे जन सरोकारों की बात करेंगे लेकिन वह लौटने के साथ जाति की राजनीति शुरू कर चुके हैं.

 

सच्चिदानंद राय ने कहा कि बिहार को एक सकारात्मक विपक्ष की भी जरूरत है जिसके मद्देनजर तेजस्वी प्रसाद यादव को सोचने और समझने की जरूरत है. आपको बता दें कि तेजस्वी यादव लंबे समय से सक्रिय राजनीति से दूर थे. 20 अगस्त को पटना पहुंचते ही तेजस्वी यादव एक्टिव नजर आए. तेजस्वी अतिक्रमण हटाओ अभियान के तहत पटना रेलवे स्टेशन के पास दूध बाजार को तोड़े जाने के विरोध में बुधवार रात धरने पर बैठ गए.

इस दौरान तेजस्वी यादव का सपोर्ट करने के लिए उनके भाई तेजप्रताप यादव भी पहुंचे. इसके बारे में ट्वीट करते हुए तेजस्वी यादव ने कहा कि पटना रेलवे जंक्शन के पास दशकों से स्थित दुग्ध मार्केट को तानाशाही नीतीश प्रशासन ने अचानक ध्वस्त कर दिया. दूध व्यवसायियों ने प्रशासन से मार्केट तोड़ने के आदेश की कॉपी माँगी लेकिन प्रशासन यह दिखाने में असमर्थ रहा और बंदूक़ की नोक पर ज़बरदस्ती एक मंदिर सहित मार्केट को तोड़ दिया.