पटना: 7 दिन बाद मिला राकेश का शव, परिजनों ने बिजनेस पार्टनर पर लगाया हत्या का आरोप

पीड़ित के परिजनों की मांग है कि उन्हें मुआवजा और सरकारी नौकरी दी जाए. साथ ही राकेश के हत्यारे को जल्द से जल्द फांसी की सजा दी जाए.

पटना: 7 दिन बाद मिला राकेश का शव, परिजनों ने बिजनेस पार्टनर पर लगाया हत्या का आरोप
पुलिस को सात दिन बाद मिला राकेश का शव. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

पटना: पटना सिटी के चौक थाना क्षेत्र से 6 नवंबर को रहस्मय ढंग से गायब हुए राकेश का शव मेहंदी गंज थाना इलाके से पुलिस ने बरामद किया है. जिससे मृतक के परिजनों में काफी आक्रोश है. घटना से गुस्साएं लोगों ने राकेश के शव को झाऊगंज के पास अशोक राजपथ पर रख सड़क जाम कर दिया. इस दौरान लोगों ने जमकर हंगाम किया.

पीड़ित के परिजनों की मांग है कि उन्हें मुआवजा और सरकारी नौकरी दी जाए. साथ ही राकेश के हत्यारे को जल्द से जल्द फांसी की सजा दी जाए. हालांकि पुलिस ने परिजनों को समझा कर आरोपी के खिलाफ कठोर कार्रवाई करने का आश्वासन देकर सड़क जाम खुलवा दिया है.  

परिजनों का कहना है कि राकेश की हत्या उसके बिजनेस पार्टनर महादेव प्रसाद ने की है. परिवार ने पुलिस को बताया कि राकेश और महादेव प्रसाद पार्टनर के रूप में रेस्टोरेंट व्यवसाय करते थे और व्यवसाय में किसी तरह की खटास चल रही थी. 

उन्होंने कहा कि बीते 6 नंवबर को महादेव प्रसाद ने राकेश को फोन कर बाहर मिलने बुलाया था. इसके बाद राकेश घर से चला गया और लौट कर नहीं आया. वहीं, राकेश के घर न लौटने पर परिवार वालों ने उसे फोन किया लेकिन उसने अपना मोबाइल बंद कर रखा था.

इसके बाद जब राकेश बहुत देर तक घर नहीं लौटा तो परिजनों ने महादेव के खिलाफ पुलिस में मामला दर्ज करा दिया. वहीं, पुलिस को छानबीन के दौरान दो दिन पहले ही राकेश की स्कूटी पटना साहिब स्टेशन से बरामद हुई थी. इसके बाद अब राकेश का शव भी बरामद कर लिया गया है.

वहीं, राकेश का शव मिलने के बाद पुलिस ने उसे पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. साथ ही आरोपी महादेव प्रसाद औऱ उसके सहयोगी को जेल भेज दिया है औऱ पूरे मामलें की जांच कर रही है.

Preeti Negi, News Desk