बिहार : CCTV से मचा सियासी बवाल, JDU ने कहा- सीएम के पास नहीं इतना समय

बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने सीएम नीतीश कुमार पर उनकी जासूसी का आरोप लगाया है. 

बिहार : CCTV से मचा सियासी बवाल, JDU ने कहा- सीएम के पास नहीं इतना समय
सीसीटीवी कैमरे ने मचाया बिहार में सियासी बवाल.

आशुतोष चंद्रा/पटना : महज एक सीसीटीवी कैमरे ने बिहार की सियासत में हडकंप ला दिया है. विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर सीसीटीवी कैमरे के जरिये उनकी जासूसी कराए जाने का आरोप लगाया है. दरअसल ये सीसीटीवी कैमरा सीएम हाउस और तेजस्वी यादव के बंगले से सटे बाउन्ड्री पर लगाया गया है. जिसको लेकर सियासी आरोप प्रत्यारोप का दौर शुरु हो गया है.

बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने सीएम नीतीश कुमार पर उनकी जासूसी का आरोप लगाया है. तेजस्वी यादव का आरोप है कि नीतीश कुमार उनकी हर गतिविधि पर नजर रखे हुए हैं और इसको लेकर तेजस्वी यादव ने गुरुवार की सुबह अपने ट्विटर एकाउंट से जमकर नीतीश कुमार पर हमला बोला.

दरअसल तेजस्वी यादव का बंगला और सीएम हाउस की बाउन्ड्री का हिस्सा कई जगहों पर बिलकुल सटा हुआ है. सीएम हाउस में इन दिनों सिक्यूरिटी को लेकर काफी काम चल रहा है. इसी के तहत कई जगहों पर सीसीटीवी कैमरे भी सीएम हाउस की बाउन्ड्री पर लगाए गए हैं. इन्हीं में से एक कैमरा तेजस्वी यादव के बंगले के दूसरे नंबर की गेट के पास लगा है. जिसको लेकर तेजस्वी यादव ने आपत्ति जतायी है.

बिहार : तेजस्वी यादव का नीतीश कुमार पर आरोप, 'करा रहे हैं मेरी जासूसी'

आरजेडी के मुख्य प्रवक्ता भाई वीरेन्द्र ने कहा कि ये कोई नया मसला नहीं है. तेजस्वी यादव और राबड़ी देवी की हर गतिविधि पर सरकार निगरानी रख रही है. इससे पहले उनके फोन को टैप कराए जा रहे थे. पूरे मामले की निष्पक्ष रुप से जांच होनी चाहिए.

वहीं, पूर्व सीएम जीतन राम मांझी ने मामले को सोची समझी साजिश करार दिया है. जीतन राम मांझी ने कहा कि ये पहला मामला है जब किसी नेता प्रतिपक्ष की निगरानी सीसीटीवी कैमरे से करायी जा रही है. 

इधर बिहार सरकार के उद्योग मंत्री जय कुमार सिंह ने इसे तेजस्वी की ओछी राजनीति करार दिया है. जय कुमार सिंह ने कहा है कि सीसीटीवी कैमरे मुख्यमंत्री और उनके आवास की सुरक्षा में लगाए गए हैं. बिहार के सीएम लगातार 14 घंटे काम करनेवाले व्यक्ति हैं. उनके पास किसी के घर में क्या चल रहा इसकी जानकारी लेने का वक्त नहीं है और ना ही ऐसे मामलों में उनकी रुचि है. नीतीश कुमार घर की राजनीति नहीं करते, बल्कि मैदान की राजनीति करते हैं और विरोधियों को मैदान में जवाब देते हैं.

सीसीटीवी कैमरा भले ही सीएम हाउस की सुरक्षा के मद्देनजर लगाया गया हो. लेकिन सीएम हाउस के पास लगे एक कैमरे ने पूरे मामले को सियासी तूल दे दिया है. इसके जरिये तेजस्वी यादव सरकार को घेरने में जुट गये हैं.