CEC ने बिहार विधानसभा चुनाव से पहले दिया तैयारियों का ब्योरा, जानिए अहम निर्देश...

कोविड काल में चुनाव कराने को लेकर समय सीमा बढ़ा दी गई है. पॉलिंग स्टेशन पर भीड़ इकट्ठी न हो और सभी मतदाताओं को बिना रूकावट बेहतर सोशल डिस्टेंसिंग की जगह मिल सके, इसके लिए समय सीमा को एक घंटे के लिए बढ़ा दिया गया है.

CEC ने बिहार विधानसभा चुनाव से पहले दिया तैयारियों का ब्योरा, जानिए अहम निर्देश...
CEC ने बिहार विधानसभा चुनाव से पहले दिया तैयारियों का ब्योरा, जानिए अहम निर्देश...

पटना: बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Vidhansabha election) को लेकर चुनाव आयोग ने यह निर्देश दे दिया है कि तीन फेज में चुनाव होने वाले हैं. इसको लेकर निर्वाचन आयोग की तैयारियों और नए निर्देशों की जानकारी देते हुए चीफ इलेक्शन कमिशनर सुनील अरोड़ा ने कहा कि इस प्रेस कॉन्फ्रेंस के बाद से ही आचार संहिता लागू की जा रही है. 

आचार संहिता को सही तरीके से लागू कराया जा सके, इसके लिए निर्वाचन आयोग ने पहले ही अपनी तैयारी पूरी कर ली है.

सुनील अरोड़ा ने कहा कि बिहार विधानसभा का टर्म 29 नवंबर को समाप्त हो रहा है. बिहार विधानसभा में 243 विधानसभा सीटें हैं जिसमें से 38 सीट एससी और एसटी के लिए आरक्षित है. 

उन्होंने कहा कि बिहार विधानसभा चुनाव के पहले 7 लाख हैंड सैनिटाइजर, तकरीबन 46 लाख मास्क, 6 लाख पीपीई किट्स, 6.7 लाख फेस शील्ड, 23 लाख जोड़ी हैंड ग्लवस की व्यवस्था कर ली गई है. खासकर के मतदाताओं के लिए 7.2 करोड़ सिंगल यूज हैंड-ग्लव्स की व्यवस्था की गई है.

चीफ इलेक्शनर कमिशनर ने कहा कि सोशल मीडिया प्लेटफॉर्मस के लिए प्रोटोकॉल बनाए जाने की कवायद भी शुरू कर दी जाएगी ताकि उसका मिसयूज न किया जाए.

बता दें कि कोविड काल में चुनाव कराने को लेकर समय सीमा बढ़ा दी गई है. पॉलिंग स्टेशन पर भीड़ इकट्ठी न हो और सभी मतदाताओं को बिना रूकावट बेहतर सोशल डिस्टेंसिंग की जगह मिल सके, इसके लिए समय सीमा को एक घंटे के लिए बढ़ा दिया गया है. अब मतदाता सुबह 7 बजे से लेकर 6 बजे तक अपनी वोटिंग कर सकेंगे. हालांकि, नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में अब भी वोटिंग 5 बजे शाम तक ही होगी.

इसके अलावा CEC सुनील अरोड़ा ने यह भी कहा कि कोरोना के वैसे मरीज जो क्वारंटाइन किए गए हैं या जो संक्रमित हैं, उनके लिए पोलिंग के आखिरी दिन वोटिंग करने की व्यवस्था की गई है. वे स्वास्थ्य अधिकारी के निर्देशन में अपने पोलिंग बूथ पर जा कर वोटिंग कर सकते हैं. यह विकल्प तब दिया गया है जब कोई पोस्टल फैसिलिटी भी उनके लिए उपलब्ध है.