हैदराबाद मुठभेड़ पर बिहार में खुशी, छात्राओं ने कहा- बक्सर, समस्तीपुर में भी बेटियों को मिले इंसाफ

पटना जेडी वीमेंस कॉलेज की छात्राओं और उनके अभिभावकों ने कहा की हैदराबाद के पुलिस ने जो किया वह काबिल-ए- तारीफ है, लेकिन एनकाउंटर नहीं कर के सरेआम लोगों के बीच सजा देना चाहिए.

हैदराबाद मुठभेड़ पर बिहार में खुशी, छात्राओं ने कहा- बक्सर, समस्तीपुर में भी बेटियों को मिले इंसाफ
छात्राओं ने केक काटकर मनाई खुशी.

पटना: हैदराबाद में महिला वेटनरी डॉक्टर के साथ दरिंदगी करने वाले चारों आरोपियों को पुलिस ने एनकाउंटर में ढेर कर दिया. ये खबर आते ही पूरे देश में खुशी की लहर दौड़ गई. हर कोई इस एनकाउंटर को सही बता रहा है. इस एनकाउंटर के बाद महिलाए विशेषकर काफी खुश हैं. उनका कहना है कि पुलिस ने गर्व करने वाला काम किया है. साथ ही ऐसे दरिंदों के साथ इसी तरह होना चाहिए था.

पटना जेडी वीमेंस कॉलेज की छात्राओं और उनके अभिभावकों ने कहा की हैदराबाद के पुलिस ने जो किया वह काबिल-ए- तारीफ है, लेकिन एनकाउंटर नहीं कर के सरेआम लोगों के बीच सजा देना चाहिए. साथ ही ऐसे घिनौने काम करने के बारे में इस मानसिकता के लोग लाख बार सोचें. 

वहीं, कुछ छात्राओं ने कहा लड़किया आज भी बिहार में सुरक्षित नहीं है. बिहार पुलिस कुछ नहीं कर पाती है जिस तरह की घटना हो रही है. इसके लिए कानून बनाना चाहिए. नेताओं की बेटी के साथ ऐसा होगा तो वह क्या करेंगे? जल्द ही कड़े कानून बनाने और उसे प्रभाव से लागू कराने की जरुरत है.

इसके साथ ही एनकाउंटर किए जाने पर पटना महिला कॉलेज की छात्राओं ने केक-काट कर जश्न मनाया और हैदराबाद पुलिस को सैलूट किया. इन छात्राओं ने कहा कि हैदराबाद महिला वेटनरी डॉक्टर के दरिंदो को सजा मिली इसकी तो ख़ुशी है, लेकिन बिहार के बक्सर और समस्तीपुर में हुई घटनाओं पर हम दुखी हैं. उन्होंने कहा कि बिहार पुलिस उन दरिंदों पर कब कार्रवाई करेगी और उन्हें कब सजा मिलेगी.