गिरिराज सिंह ने कहा, असम को हिंदुस्तान से अलग करने की बात करने वाले हैं गद्दार

. शरजिल इमाम ने कहा- "अगर हमारे पास संगठित लोग हों तो हम असम को भारत से हमेशा के लिए अलग कर सकते हैं. स्थायी तौर पर नहीं तो कम से कम एक दो महीने के लिए असम को हिंदुस्तान से अलग तो करा ही सकते हैं."

गिरिराज सिंह ने कहा, असम को हिंदुस्तान से अलग करने की बात करने वाले हैं गद्दार
केंद्रीयमंत्री गिरिराज सिंह ने शाहीनबाग शरजिल इमाम पर दिया बड़ा बयान. (फाइल फोटो)

पटना: बीजेपी के फायर ब्रांड नेता केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने शाहीनबाग में प्रदर्शन कर रहे लोगों के ऊपर एक बड़ा बयान दिया है. उन्होंने ट्विटर पर ट्वीट किया- ''ये कहते हैं कि सभी का खून है शामिल यहां की मिट्टी में, किसी के बाप का हिंदुस्तान थोड़ी है." इन गद्दारों की बात सुनकर कैसे मान लूं कि इनका खून शामिल है यहां की मिट्टी में ?

उन्होंने आगे लिखा कि कह रहा है कि असम को काट कर हिंदुस्तान से अलग कर देंगे. उन्होंने सवाल उठाया कि क्या यहीं है देशभक्ति. दरअसल, केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह का यह बयान दिल्ली के शाहीनबाग में सीएए के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे लोगों के उल्टे बोल के बाद आया है. 

दिल्ली के शाहीनबाग में नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ प्रदर्शन के मुख्य आयोजक जेएनयू छात्र शरजिल इमाम ने एक भड़काऊं भाषण दे दिया जिसके बाद से सोशल मीडिया पर ट्रोलर्स की भीड़ उमड़ पड़ी. शरजिल इमाम ने कहा- "अगर हमारे पास संगठित लोग हों तो हम असम को भारत से हमेशा के लिए अलग कर सकते हैं. स्थायी तौर पर नहीं तो कम से कम एक दो महीने के लिए असम को हिंदुस्तान से अलग तो करा ही सकते हैं."

इसके अलावा शरजिल इमाम ने यह भी कहा कि रेलवे ट्रैक पर इतना मलबा डालो कि उनको हटाने में एक महीना लग जाए. जाना हो तो वायु मार्ग से जाएं. बस इतने में तो असम को काटना हमारी जिम्मेदारी है." शरजिल इमाम के इस भड़काऊ बयान के बाद से ही सियासी सरगर्मी बहुत तेजी से बढ़ गई है.