रविशंकर प्रसाद ने किया पटना साहिब का दौरा, बाढ़ पीड़ितों से मिले केंद्रीय मंत्री

बाढ़ में फंसे लोगों को पानी और जरूरी सामाग्री उचित प्रकार से मिले इसके लिए उन्होंने केबिनेट सेक्रेटरी और रक्षा सचिव से आग्रह किया कि वायु सेना का हेलीकॉप्टर पटना पहुंचे और राहत कार्य में लग जाए.

रविशंकर प्रसाद ने किया पटना साहिब का दौरा, बाढ़ पीड़ितों से मिले केंद्रीय मंत्री
रविशंकर प्रसाद ने किया पटना साहिब का दौरा.

पटना : केंद्रीय मंत्री और पटना साहिब सांसद रविशंकर प्रसाद (Ravi Shankar Prasad) ने आज यानी सोमवार को अपने संसदीय क्षेत्र के बाढ़ इलाकों का सघन दौरा किया. राजस्थान के अपने दौरे को बीच में स्थगित कर पटना पहुंचते ही सबसे पहले उन्होंने केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत से आग्रह किया कि फरक्का बांध के सभी गेट को खोल दिया जाए ताकि गंगा नंदी का जलस्तर कम होगा. फरक्का बांध के सभी गेट को खोल दिया गया. इसके पश्चात बिहार सरकार (Bihar Government) की अपेक्षा के अनुसार उन्होंने केंद्रीय कोयला मंत्री प्रल्हाद जोशी से आग्रह किया कि तुरंत कोल इंडिया के दो हैवी संप पंप पटना पहुंचाया जाए. वायु सेना के विशेष हेलीकाप्टर से छतीसगढ़ होते हुए पंप को पटना लाया गया.

बाढ़ में फंसे लोगों को पानी और जरूरी सामाग्री उचित प्रकार से मिले इसके लिए उन्होंने केबिनेट सेक्रेटरी और रक्षा सचिव से आग्रह किया कि वायु सेना का हेलीकॉप्टर पटना पहुंचे और राहत कार्य में लग जाए. उन्होंने नगर निगम कमिश्नर को निर्देश दिया कि मीठापुर समीप रामकृष्ण नगर नाले की जेसीबी मशीन से उराही की जाए, ताकि पानी निकले.

रविशंकर प्रसाद ने आज नगर निगम आयुक्त अमित पांडेय के साथ दिन भर मीठापुर बस स्टैंड होते हुए बिग्रहपुर, रामनगर पथ, रामकृष्ण नगर, रामलखन पथ, नंदलाल छपरा, पहाड़ी सम्प हाउस, ट्रांसपोर्ट नगर, बिस्कोमान कॉलोनी होते हुए राजेन्द्र नगर समेत कई स्थानों पर जल-जमाव वाले क्षेत्रों का जायजा लिया और अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए.

राजेन्द्र नगर में डूबे हुए इलाकों का NDRF के नाव से जायजा लिया और पानी में फंसे लोगों का हौसला बढ़ाया. उन्होंने पटना जिलाधिकारी कुमार रवि और NDRF के डायरेक्टर जनरल एसएन प्रधान को विशेष रूप से निर्देश दिया कि बाढ़ इलाकों में नाव की कोई कमी नहीं होनी चाहिए. िस दौरान उनके साथ कुम्हरार विधानसभा के विधायक अरुण कुमार सिन्हा और दीघा विधानसभा के विधायक संजीव चौरसिया भी मौजूद थे.