close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

न्यायपालिका में भ्रष्टाचार का आरोप लगाने वाले जस्टिस राकेश अब नहीं करेंगे केसों की सुनवाई, क्‍‍‍‍‍‍‍‍योंकि...

रजिस्ट्रार से भी सफाई मांगी गई है कि जो केस पहले निपटाया जा चुका था, उसे दोबारा जस्टिस राकेश कुमार के पास कैसे लगाया गया.

न्यायपालिका में भ्रष्टाचार का आरोप लगाने वाले जस्टिस राकेश अब नहीं करेंगे केसों की सुनवाई, क्‍‍‍‍‍‍‍‍योंकि...
पटना हाईकोर्ट के चीफ जस्टिस ने लिया फैसला. (फाइल फोटो)

पटना : पटना हाईकोर्ट के जस्टिस राकेश कुमार से चीफ जस्टिस ने सारे केस वापस ले लिए हैं. उन्होंने न्यायपालिका में भ्रष्टाचार को लेकर बुधवार को तल्ख टिप्पणी की थी. जस्टिस राकेश कुमार से वे सभी केस वापस लिए गए हैं, जो वह सिंगल बेंच में देख रहे थे.

साथ ही रजिस्ट्रार से भी सफाई मांगी गई है कि जो केस पहले निपटाया जा चुका था, उसे दोबारा जस्टिस राकेश कुमार के पास कैसे लगाया गया. ज्ञात हो कि हाइकोर्ट के जज जस्टिस राकेश कुमार ने वरिष्ठ जजों और हाइकोर्ट प्रशासन की कार्यप्रणाली पर सवाल उठाते हुए बुधवार को कहा था कि राज्य की निचली अदालतों के भ्रष्ट न्यायिक अधिकारियों को संरक्षण मिल रहा है. जिस अधिकारी को भ्रष्टाचार के मामले में बर्खास्त होना चाहिए, उस अधिकारी को मामूली सी सजा देकर छोड़ दिया जा रहा है.

LIVE TV...

जस्टिस कुमार ने अपने कुछ सहयोगी जजों पर भी मुख्य न्यायाधीश के आगे-पीछे करने का आरोप लगाया. उन्होंने यह तल्ख टिप्पणी पूर्व आईपीएस अधिकारी रमैया से जुड़े मामले की सुनवाई के दौरान की. इस दौरान उन्होंने यह सवाल भी उठाया कि सुप्रीम कोर्ट और हाईकोर्ट से जमानत खारिज होने के बाद निचली अदालत ने रमैया को बेल कैसे दे दी.