झारखंड: स्वतंत्रता दिवस समारोह में बच्चे, बुजुर्ग नहीं होंगे शामिल, जानें कारण

 झारखंड में इस साल स्वतंत्रता दिवस का मुख्य कार्यक्रम जैप-1 ग्राउंड, डोरंडा में आयोजित किया जाएगा. इस वर्ष राज्य एवं जिलास्तरीय स्वतंत्रता दिवस समारोह का आयोजन आगंतुकों की संख्या सीमित रखते हुए किया जाएगा.

झारखंड: स्वतंत्रता दिवस समारोह में बच्चे, बुजुर्ग नहीं होंगे शामिल, जानें कारण
स्वतंत्रता दिवस का मुख्य कार्यक्रम जैप-1 ग्राउंड, डोरंडा में आयोजित किया जाएगा. (फाइल फोटो)

रांची: झारखंड में इस साल स्वतंत्रता दिवस का मुख्य कार्यक्रम जैप-1 ग्राउंड, डोरंडा में आयोजित किया जाएगा. इस वर्ष राज्य एवं जिलास्तरीय स्वतंत्रता दिवस समारोह का आयोजन आगंतुकों की संख्या सीमित रखते हुए किया जाएगा, जिससे अधिक संख्या में लोग एकत्रित न हों.

इस समारोह में 10 वर्ष से कम उम्र के बच्चे और 60 वर्ष से अधिक उम्र के व्यक्ति भाग नहीं लेंगे. झारखंड के मुख्य सचिव सुखदेव सिंह ने कहा कि कोविड-19 से उत्पन्न परिस्थिति को देखते हुए गृह मंत्रालय भारत सरकार के निर्देशानुसार झारखंड सरकार द्वारा इस वर्ष राज्य एवं जिलास्तरीय स्वतंत्रता दिवस समारोह का आयोजन आगंतुकों की संख्या सीमित रखते हुए किया जाएगा.

मुख्य सचिव ने कहा कि इस वर्ष स्वतंत्रता दिवस समारोह में कोविड-19 के विरुद्ध लड़ाई में कार्यरत चिकित्सकों, स्वास्थ्यकर्मियों, स्वच्छताकर्मियों तथा संक्रमण से ठीक हुए कुछ व्यक्तियों को आमंत्रित किया जाए. इस समारोह में 10 वर्ष से कम उम्र के बच्चों एवं 60 वर्ष से अधिक उम्र के व्यक्तियों को आमंत्रित नहीं किया जाएगा.

उन्होंने निर्देश दिया कि आमंत्रित सभी आगंतुकों द्वारा मास्क एवं सामाजिक दूरी मानदंड आदि निर्देशों का अनुपालन सुनिश्चित किया जाएगा. समारोह स्थल पर बैठने की व्यवस्था करते हुए कुर्सियों के बीच दो गज की दूरी मानदंड का अनुपालन सुनिश्चित किया जाए.

मुख्य सचिव ने निर्देश दिया कि कोविड-19 महामारी को देखते हुए मुख्य समारोह स्थल पर सेनिटाइजेशन, चिकित्सकों, स्वास्थ्यकर्मियों, स्वच्छताकर्मियों, एम्बुलेंस आदि सभी आवश्यक व्यवस्थाएं सुनिश्चित कराई जाएं.
मुख्य समारोह में सीआरपीएफ, जैप, जिला पुलिस, फायर ब्रिगेड एवं होमगार्ड के जवान परेड में सम्मिलित होंगे.