समस्तीपुर: कोरोना मरीज के शव दफनाने को लेकर पुलिस-ग्रामीण में झड़प, कई जख्मी

संक्रमित युवक कोलकाता के मालदा निवासी था. वह मुंबई से ट्रेन से मालदा जा रहा था. यहां उसकी तबीयत बिगड़ने पर उतार कर अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां उसकी मौत हो गई थी.

समस्तीपुर: कोरोना मरीज के शव दफनाने को लेकर पुलिस-ग्रामीण में झड़प, कई जख्मी
समस्तीपुर: कोरोना मरीज के शव दफनाने को लेकर पुलिस-ग्रामीण में झड़प, कई जख्मी. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

समस्तीपुर: समस्तीपुर में कोरोना वायरस पॉजिटिव की मौत के बाद, शव को दफनाने को लेकर ग्रामीणों और प्रशासन के बीच झड़प हो गई. झड़प के दौरान ग्रामीणों ने पुलिस पर पत्थरबाजी शुरू कर दी. इसके जवाब में पुलिस ने भी जवाबी कार्रवाई की. इस दौरान कई पुलिसकर्मी सहित ग्रामीण भी जख्मी हो गए.

ग्रमीणों का कहना है कि, कोरोना वायरस (Coronavirus) पॉजिटिव मरीज को इस जगह पर जलाने से आस-पास का इलाका भी संक्रमित हो जाएगा. वहीं, पुलिस ग्रामीणों को समझाने का प्रयास करती रही, लेकिन इसी बीच ग्रामीण उग्र हो गए और पत्थरबाजी शुरू कर दी.

जानकारी के अनुसार, कोरोना संक्रमित युवक कोलकाता के मालदा का रहने वाला था, जो मुंबई से स्पेशल श्रमिक ट्रेन (Shramik Train) से मालदा जा रहा था, यहां उसकी तबीयत बिगड़ने के कारण उसे समस्तीपुर स्टेशन पर उतार सदर अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां उसकी मौत हो गई थी. जिसके बाद उसका कोरोना जांच कराया गया था. जिसमें उसकी रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गई थी.

इसके बाद, शनिवार को उसके शव को डिस्पोजल करने के लिए, शहर के मोक्षधाम ले जाया गया, जहां ग्रामीण शव का उक्त स्थान पर दाह संस्कार करने का विरोध कर रहे थे. इस घटना के बाद, पुलिस ने कुछ उपद्रवियों को हिरासत में भी लिया है.