close

खास खबरें सिर्फ आपके लिए...हम खासतौर से आपके लिए कुछ चुनिंदा खबरें लाए हैं. इन्हें सीधे अपने मेलबाक्स में प्राप्त करें.

नीतीश कुमार के गृह जिला में ही चरमराई स्वास्थ्य सुविधा, नालंदा के अस्पताल में लटके रहते हैं ताले

कागज पर 24 घंटे खुलने वाले इस स्वास्थ्य केंद्र में सिर्फ पांच घंटे ही लोगों को सेवाएं मिल रही हैं. बाकी समय यहां ताले लटके रहते हैं.

नीतीश कुमार के गृह जिला में ही चरमराई स्वास्थ्य सुविधा, नालंदा के अस्पताल में लटके रहते हैं ताले
नालंदा में अस्पताल का बुरा हाल.

दीपक विश्वकर्मा/नालंदा : भले ही बिहार सरकार राज्य में बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं देने का दावा कर रही हो, मगर यह दावा मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के गृह जिला नालंदा में ही खोखला साबित हो रहा है. कई प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र ऐसे हैं जहां स्वास्थ्य सेवाएं पूरी तरह चरमरा गई है. नालंदा स्थित अतिरिक्त स्वास्थ्य केंद्र का सबसे बुरा हाल है. 

कागज पर 24 घंटे खुलने वाले इस स्वास्थ्य केंद्र में सिर्फ पांच घंटे ही लोगों को सेवाएं मिल रही हैं. बाकी समय यहां ताले लटके रहते हैं. बंद होने के कारण मरीजों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है.

दरअसल, नालंदा एक अंतर्राष्ट्रीय पर्यटक स्थल है, जहां प्रतिदिन सैकड़ों की संख्या में देश और विदेशों से पर्यटक आते हैं. इसके बावजूद यहां स्वास्थ्य केंद्रों पर ध्यान नहीं दिया जा रहा है. स्वास्थ्य केंद्र के गार्ड चंदन कुमार का कहना है कि जब से यहां के अस्पतालों में ट्रांसफर-पोस्टिंग की गई है तब से मात्र एक डॉक्टर ही इस अस्पताल में आते हैं. दो-तीन नर्सों के सहारे यहां ओपीडी में सेवाएं दी जा रही हैं.

प्रसव से लेकर अन्य कई स्वास्थ्य सुविधाएं ऐसे हैं, जिससे मरीज महरूम हो रहे हैं. अस्पताल आए रामाश्रय सिन्हा काफी दुखी दिखे. उन्होंने सरकार से मांग की है कि अंतर्राष्ट्रीय पर्यटक स्थल होने के कारण यहां के अस्पतालों पर ध्यान देना चाहिए. इससे पर्यटकों को समुचित स्वास्थ्य सेवाएं मिलेंगी.

आपको बता दें कि हाल के दिनों में नालंदा के जिलाधिकारी योगेंद्र सिंह ने बड़े पैमाने पर स्वास्थ्य कर्मियों की ट्रांसफर-पोस्टिंग की है. इसके बाद यहां की स्वास्थ्य व्यवस्था पूरी तरह चरमरा गई है. यहां तक कि बिहारशरीफ सदर अस्पताल के उपाधीक्षक का भी तबादला राजगीर कर दिया गया है. नई उपाधीक्षक डॉ श्रीमती कृष्णा बनायी गई हैं. उन्होंने अभी तक अपना पदभार भी नहीं ग्रहण किया है. डॉक्टर रामकुमार लंबी छुट्टी पर चले गए हैं.

लाइव टीवी देखें-: