चमकी बुखार को लेकर एक्शन में आए नीतीश कुमार, अधिकारियों को दिए ये निर्देश...

इसके बाद बिहार के प्रधान सचिव संजय कुमार ने मुजफ्फरपुर चमकी बुखार के बारें में जानकारी देते हुए कहा कि AESका एक का मामला सामने आया है. एक ढाई वर्ष के बच्चे में यह मामला पाया गया है. फिलहाल उसकी हालत गंभीर है. 

चमकी बुखार को लेकर एक्शन में आए नीतीश कुमार, अधिकारियों को दिए ये निर्देश...
चमकी बुखार पर सीएम नीतीश कुमार ने अधिकारियों को दी सख्त हिदायत. (फाइल फोटो)

मुजफ्फरपुर: एक ओर जहां पूरा देश कोरोना से जंग लड़ रहा है वहीं गर्मी प्रारंभ होते ही बिहार के मुजफ्फरपुर में एक्यूट इंसेलाइटिस (एईएस) का भय सताने लगा है. इसी बीच मुजफ्फरपुर के श्रीकृष्ण मेडिकल कॉलेज अस्पताल (एसकेएमसीएच) में शुक्रवार को एईएस का एक मरीज भर्ती कराया गया है, जबकि शनिवार को एक और मरीज पहुंचा है. 

इस बीच बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने मुजफ्फरपुर और आसपास जिलों में होनेवाली एईएस बीमारी की भी चर्चा की. सीएम ने संबंधित इलाकों में अभी से जागरूकता अभियान चलाने का निर्देश दिया. एसकेएमसीएच में बन रहे विशेष वार्ड का निर्माण जल्द करने के निर्देश भी अधिकारियों को दिए.

इसके बाद बिहार के प्रधान सचिव संजय कुमार ने मुजफ्फरपुर चमकी बुखार के बारें में जानकारी देते हुए कहा कि AESका एक का मामला सामने आया है. एक ढाई वर्ष के बच्चे में यह मामला पाया गया है. फिलहाल उसकी हालत गंभीर है. इस पर नजर रखी जा रही है.

उन्होंने कहा कि जनवरी से मई तक चमकी बुखार के कुछ मामले आते ही हैं. जून महीने का पहला सप्ताह काफी गंभीर होता है इस चमकी बुखार के लिए. इसको लेकर स्थिति पर नजर रखी जा रही है.

एसकेएमसीएच में शुक्रवार को भर्ती आदित्य कुमार (करीब चार साल) सकरा प्रखंड के बैजूबुजुर्ग गांव निवासी मुन्ना राम का पुत्र है. एसकेएमसीएच में उसे शुक्रवार दोपहर बाद पीआईसीयू में भर्ती किया गया है और उसका इलाज किया जा रहा है. डॉक्टरों ने उसे एईएस का मरीज बताया है.