CM नीतीश ने की मोदी सरकार के बजट की तारीफ, कहा- मजबूत होगी ग्रामीण अर्थव्यवस्था

अंतरिम बजट में असंगठित क्षेत्र में काम कर रहे लोगों को प्रतिमाह 3,000 रुपये पेंशन देने के प्रावधान को भी मुख्यमंत्री ने सही कदम बताया.

CM नीतीश ने की मोदी सरकार के बजट की तारीफ, कहा- मजबूत होगी ग्रामीण अर्थव्यवस्था
नीतीश कुमार ने की बजट की तारीफ. (फाइल फोटो)

पटना : बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने केंद्रीय वित्त मंत्री पीयूष गोयल द्वारा संसद में शुक्रवार को पेश अंतरिम बजट को सकारात्मक और स्वागतयोग्य बताया. बजट में देश के सभी किसानों के खाते में सीधे छह हजार रुपये प्रतिवर्ष देने के फैसले का मुख्यमंत्री ने स्वागत किया और कहा कि इस फैसले से ग्रामीण अर्थव्यवस्था मजबूत बनेगी. 

अंतरिम बजट में असंगठित क्षेत्र में काम कर रहे लोगों को प्रतिमाह 3,000 रुपये पेंशन देने के प्रावधान को भी मुख्यमंत्री ने सही कदम बताया. मुख्यमंत्री ने आयकर की छूट को 2.50 लाख रुपये से बढ़ाकर 5 लाख रुपये किए जाने को बेहतर कदम बताते हुए कहा कि इससे मध्यम वर्ग को राहत मिलेगी.

वहीं, केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने बजट पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि नरेंद्र मोदी ने जो वादा किया था वो कर के दिखा दिया है. सबसे बड़ी बात है कि जब बजट पेश हो रहा था और राहुल गांधी के चेहरे की हवाइयां उड़ रही थी, उन्हें यह समझ में नहीं आ रहा था कि आखिर वह कैसे इस बजट की आलोचना करेंगे. गिरिराज सिंह ने कहा कि बजट में हर छोटे बड़े तबकों को ध्यान में रखा गया है.

बीजेपी नेता और बिहार सरकार में राजस्व मंत्री राम नारायण मंडल ने बजट को ऐतिहासिक बताया है, जबकि कांग्रेस के नेताओं ने सिर्फ जुमला करार दिया है. कांग्रेस के बिहार प्रभारी शक्ति सिंह गोहिल ने कहा कि किसानों को मदद देने की बात भी किस्तों में कही गई है. वहीं, कांग्रेस नेता प्रेमचंद मिश्रा ने कहा कि बजट में बिहार में कुछ नहीं किया गया है, जबकि विधानमंडल दल के नेता सदानंद सिंह ने कहा कि 2014 की तरह 2019 में भी वादे ही किये गये हैं, जो कभी पूरे नहीं होंगे.