बिहार: आज किशनगंज पहुंचेंगे CM नीतीश कुमार, बेनु महाराजगढ़ का लेंगे जायजा

 किशनगंज जिले के भारत-नेपाल सीमा से सटे टेढ़ागाछ प्रखंड में बेनु बाबाधाम के मंदिर में शुक्रवार तो हवाई मार्ग से पहुचेंगे. इसे लेकर जिला प्रशासन ने सारी तैयारी पूरी कर ली है. बेनु महाराज गढ़ भी सज धज कर तैयार है.

बिहार: आज किशनगंज पहुंचेंगे CM नीतीश कुमार, बेनु महाराजगढ़ का लेंगे जायजा
बेनु महाराज गढ़ भी नीतीश कुमार के स्वागत के लिए सज धज कर तैयार है.

किशनगंज: मुख्यमंत्री नीतीश कुमार आज किशनगंज जिले के भारत-नेपाल सीमा से सटे टेढ़ागाछ प्रखंड में बेनु बाबाधाम के मंदिर में शुक्रवार तो हवाई मार्ग से पहुचेंगे. इसे लेकर जिला प्रशासन ने सारी तैयारी पूरी कर ली है. बेनु महाराज गढ़ भी सज धज कर तैयार है.

सीएम के दौरे को लेकर सुरक्षा व्यवस्था का भी पुख्ता इंतजाम किया गया है. सीएम एक घंटे तक इस इलाके का जायजा लेंगे. दरअसल 2011 में सीएम नीतीश कुमार ने इस क्षेत्र को पर्यटन स्थल में विकसित करने का वादा किया था. अब सीएम अपना वादा पूरा करने के लिए बेनु महाराज के दरबार में पहुच रहे हैं.

वहीं, सीएम के पहुंचने से ग्रामीणों में खुशी का माहौल है. ग्रामीणों ने सीएम से मांग की है कि गांव में 32 बेड का स्वास्थ्य केंद्र है लेकिन इसमें चिकित्सक नहीं है जिससे ग्रामीणों को परेशानियों का सामना करना पड़ता है. इसके अलावा उनकी मांग है कि युवाओं को खेलने के लिए एक स्टेडियम का निर्माण करवाया जाए.

वहीं, नेपाल से सटा एतिहासिक धरोहर अगर पर्यटन स्थल के रूप में विकसित होता है तो इस इलाके के विकास के साथ साथ बेरोजगार लोगों को भी रोजगार मिलने की उम्मीद है.

 आपको बता दें कि इतिहासकारों के अनुसार टेढ़ागाछ का संबंध महाभारत काल से जुड़ी है़. कहा जाता है कि पांडव अज्ञातवास के दौरान बाबा बेणु महाराज के इसी गढ़ में रुके थे़. इसी पोखर में नहाते थे और इसी का पानी पीते और खाना बनाते थे़. पोखर और व टीले का अन्य अवशेष अभी भी मौजूद है़. यहीं से निकल कर ठाकुरगंज प्रखंड के गलगलिया स्थित नेपाल सीमा पार भद्रपुर में भीम ने कीचक वध किया था. वहां अभी भी कीचक वध का मेला लगता है.