बिहार: 8 लाख एकड़ चौर की जमीन को मिलेगा नया जीवन, CM नीतीश ने किया ऐलान

सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि राज्य में चौर की जमीन विकसित करेंगे. चौर के इलाके में तालाब और बागवानी होगी. 

बिहार: 8 लाख एकड़ चौर की जमीन को मिलेगा नया जीवन, CM नीतीश ने किया ऐलान
सीवान में नीतीश कुमार ने किया संबोधित. (फाइल फोटो)

पटना: बिहार की आठ लाख एकड़ चौर की जमीन को नया जीवन मिलेगा. इसका ऐलान मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) ने सीवान में जल-जीवन-हरियाली जागरुकता सम्मेलन के दौरान किया. मुख्यमंत्री ने सीवान रामपुर में चौर में बने तालाब और बागवानी के मॉडल को देखा और उसकी सराहना की. तालाब में नीचे मछली, ऊपर बिजली का नारा बुलंद किया. मुख्यमंत्री जल-जीवन-हरियाली यात्रा पर हैं और विभिन्न जिलों में जाकर कामों को देख रहे हैं.

सीएम नीतीश कुमार ने कहा कि राज्य में चौर की जमीन विकसित करेंगे. चौर के इलाके में तालाब और बागवानी होगी.

जल जीवन-हरियाली यात्रा पर चल रहे मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने नया नारा बुलंद किया है. नीचे मछली, ऊपर बिजली. सीवान के भगवानपुर प्रखंड के रामपुर गांव में चौर में बने तालाब और बागवानी के मॉडल को देखकर मुख्यमंत्री काफी प्रसन्न दिखे. वो देर तक चौर में बनाये गये तालाब और बागवानी के बारे में जानकारी लेते रहे. इसके बाद जागरुकता सम्मेलन में पहुंचे सीएम ने कई ऐलान किये.

मुख्यमंत्री ने कहा कि बिहार में आठ लाख एकड़ चौर का इलाका है, जिसका विकास सीवान के मॉडल पर हो सकता है. हम इसको पूरे राज्य में लागू करेंगे. पहले चरण में सरकारी चौर की जमीन पर इसको शुरू किया जायेगा.

मुख्यमंत्री जल जीवन हरियाली अभियान के प्रति अपनी सरकार की प्रतिबद्धता को दोहराया, जिसकी तारीफ बिहार सरकार के मंत्रियों ने भी की. मुख्य सचिव दीपक कुमार ने अभियान के तहत हो रहे विभिन्न कामों की जानकारी दी, तो डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने कहा कि बिहार पुलिस पूरी तरह से अभियान के साथ है.

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार काम और विकास के क्षेत्र में नये प्रतिमान स्तापित करने के लिए जाने जाते हैं. जल-जीवन-हरियाली अभियान को इसी का एक पड़ाव कह सकते हैं, जो आनेवाले समय में नजीर बनेगा.