पद्म सम्मान पाने वालों को CM नीतीश-सुशील मोदी ने दी बधाई, बोले- बिहार का बढ़ाया है मान

मरणोपरांत रामविलास पासवान (Ramvilas Paswan) को पद्मविभूषण से सम्मानित किए जाने पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए सुशील मोदी ने कहा कि स्वर्गीय पासवान देश के सर्वमान्य नेता थे.

पद्म सम्मान पाने वालों को CM नीतीश-सुशील मोदी ने दी बधाई, बोले- बिहार का बढ़ाया है मान
पद्म सम्मान पाने वालों को CM नीतीश-सुशील मोदी ने दी बधाई, बोले- बिहार का बढ़ाया है मान.

पटना: बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) ने पद्म सम्मानों की घोषणा पर खुशी जताई है. पूर्व केंद्रीय मंत्री स्वर्गीय रामविलास पासवान को पद्म भूषण मिलने पर सीएम नीतीश कुमार ने खुशी जताई है. इसके अलावा गोवा की पूर्व राज्यपाल स्वर्गीय मृदुला सिन्हा को पद्मश्री मिलने पर सीएम ने प्रसन्नता व्यक्त की. दुलासी देवी, रामचंद्र मांझी और डॉ दिलीप कुमार सिंह को पद्मश्री मिलने पर बधाई भी दी है.

बिहार से पद्मश्री सम्मान से रामचन्द्र मांझी, दुलारी देवी, मृदुला सिन्हा व डा. दिलीप कुमार सिंह के सम्मानित होने पर बधाई देते हुए पूर्व उपमुख्यमंत्री व सांसद सुशील कुमार मोदी (Sushil Modi) ने कहा है कि समाज के दबे-कुचले व गुमनाम व दूर-दराज के लोगों को ‘पद्म’ जैसे सम्मान से सम्मानित करने की परिपाटी के  कारण बिहार का मान बढ़ा है. 

मरणोपरांत रामविलास पासवान (Ramvilas Paswan) को पद्मविभूषण से सम्मानित किए जाने पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए सुशील मोदी ने कहा कि स्वर्गीय पासवान देश के सर्वमान्य नेता थे.

भिखारी ठाकुर की परम्परा को बढ़ाया
इसके अलावा बीजेपी राज्यसभा सांसद ने कहा कि 95 वर्षीय रामचन्द्र मांझी ने भिखारी ठाकुर की नाच परम्परा को आगे बढ़ाया. दबे-कुचले समाज से आने वाले मांझी को पद्मश्री से सम्मानित कर केन्द्र सरकार ने सराहनीय कार्य किया है.

बर्तन मांजने व झाडू-पोछा करनेवाली दुलारी देवी
उन्होंने कहा कि मल्लाह समाज से आने वाली दुलारी देवी ने दूसरों के घरों में बर्तन मांज व झाडू-पोछा कर अपना जीवन निर्वाह करती रही हैं. उनको मिथिला पेंटिंग में उल्लेखनीय कार्य के लिए सम्मानित किया गया हैं.

इसके अलावा बिहार के भागलपुर के 92 वर्षीय डॉ दिलिप कुमार सिंह की समाज व चिकित्सकीय सेवा को सम्मान दिया गया है.

मृदुला सिन्हा को साहित्य व शिक्षा में
सुशील मोदी ने कहा कि साहित्य सेवी व राजनीतिज्ञ मृदुला सिन्हा को साहित्य व शिक्षा के क्षेत्र में विशेष योगदान के लिए पद्मश्री से सम्मानित करने से बिहार का मान बढ़ा है.